Live Tv

Wednesday ,26 Jun 2019

उत्तर प्रदेश

खबर

अब इस गांव के लोगों ने किया चुनाव का बहिष्कार

लोकतंत्र के महापर्व में जहां देशभर में बढ़- चढ़ कर वोटिंग हो रही है. वहीं इस बार कई ऐसे क्षेत्र सामने आएं हैं, जहां लोगों ने चुनाव का बहिष्कार करने का एलान किया. ताजा मामला अयोध्या के एक गांव का है. जहां गांव के एकमात्र रास्ते पर मानव रहित रेलवे क्रासिंग पर फाटक की मांग के चलते  गांव के सभी मतदाताओं ने मतदान का बहिष्कार कर दिया. जिससे पोलिंग बूथ पर सन्नाटा छा गया. ग्रामीणों के मुताबिक, वह पिछले 35 वर्षों से फाटक की मांग कर रहे हैं, जो कि अब तक पूरी नहीं की गई है. जिला प्रशासन की टीम सूचना मिलते ही अपने सहयोगियों के साथ मौके पर पहुंची और लोगों को वोट डालने के लिए मनाने की कोशिश में लगी है.

मामला फैज़ाबाद लोकसभा के मसौधा ब्लॉक के नैपुरा का है, जहां सभी 1800 मतदाताओं ने चुनाव बहिष्कार कर दिया. नैपुरा गांव के किनारे रेलवे फाटक की मांग ग्रामीण 30-35 वर्ष से करते आ रहे हैं और अब जब मांगें पूरी नहीं हुई, तो मतदान बहिष्कार कर दिया.

ग्रामीणों का कहना है कि गांव से एकदम सटे रेलवे फाटक के न बनने से हम सभी को आठ से दस किलोमीटर का रास्ता अधिक चलकर ही कहीं भी आना-जाना पड़ता है. रेलवे क्रॉसिंग मानव रहित होने के कारण कई हादसे हो चुके हैं. इसी कारण  हम लोग रेल लाईन पार करके नहीं जाते. हालांकि बहिष्कार की सूचना मिलने के बाद सरकारी महकमे में हलचल मच गई और मामले को तुरन्त संज्ञान में लेते हुए आलाधिकारी मतदाताओं को मनाने मौके पर पहुंच गए. 

 

 

 

...

KNEWS !1 month ago

खबर

बुआ भ्रष्टाचारियों की तो बबुआ गुंडों का सरताजः योगी

उत्तर- प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज फैज़ाबाद लोकसभा से भाजपा प्रत्याशी और सांसद लल्लू सिंह के समर्थन में एक जनसभा को संबोधित करने बाराबंकी पहुंचे. जहां योगी ने कहा कि इस समय देश में ऐसा लग रहा है, मानो जनता स्वयं चुनाव लड़ रही है. जहां जाइए एक ही नारा गूंज रहा है, फिर एक बार मोदी सरकार. वहीं योगी ने इस जनसभा में अखिलेश को गुंडों का और मायावती को भ्रष्टाचारियों का सरताज बताया.

मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले लोग इस जिले को फैज़ाबाद के नाम से जानते थे, लेकिन हमने उसका नाम अयोध्या कर दिया और आने वाले समय में चुनाव आयोग से कह कर यहां की लोकसभा का नाम भी अयोध्या करवा देंगे. बता दें कि बाराबंकी की दरियाबाद विधानसभा फैज़ाबाद लोकसभा सीट के अंतर्गत आती है. सीएम की यह जनसभा दरियाबाद में टिकैतनगर के चीनी मिल ग्राउंड पर हुई.

हाल ही में ग्लोबल आतंकी घोषित हुए मजूद अजहर पर योगी ने कहा कि, ओसामा बिन लादेन की तरह मसूद अजहर की भी उल्टी गिनती शुरू हो गई है. जैसे ओसामा बिन लादेन मारा गया था, वैसे ही अजहर मसूद भी मारा जाएगा, क्योंकि मोदी है तो मुमकिन है.

सीएम ने विरोधियों पर निशाना साधते हुए कहा कि हम वोट बैंक की चिंता नहीं करते. कांग्रेस, सपा और बसपा के लोगों को केवल वोट बैंक की चिंता है. भाजपा सरकार में कोई भी आतंकवादी घटना को अंजाम देने की कोशिश करेगा, उससे पहले ही उसकी शवयात्रा निकल जाएगी. अगर प्रदेश के नागरिकों की सुरक्षा में सेंध लगाओगे तो या तो जेल होगी या फिर राम नाम सत्य की यात्रा निकलेगी.

सीएम योगी ने सपा- बसपा पर वार करते हुए कहा कि इनकी सरकारों में बिजली नहीं आती थी, क्योंकि अगर ये लोगों को बिजली देते तो रात में डकैती कैसे डालते? उन्होंने कहा कि हमारी सरकार में सभी को बिना भेदभाव के बिजली दी जा रही है, जबकि सपा की सरकार में देवा शरीफ में बिजली आती थी, लेकिन महादेवा में बिजली नहीं आती थी. हमने कोई भेदभाव नहीं किया क्योंकि हम सबका साथ सबका विकास करते हैं. उन्होंने कहा कि हम किसानों की गेहूं की फसल उचित मूल्य पर लेकर सीधा खाते में पैसा डालते हैं. हमने बिचौलियों और बेईमानों को समाप्त कर दिया.

सूबे के सीएम ने प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि बाबासाहेब अंबेडकर को किसी ने सही मायनों में सम्मान दिया है, तो वह नरेंद्र मोदी हैं. कांग्रेस ने बाबा साहब का सदैव अपमान किया और उन्हें संसद तक में नहीं जाने दिया. वहीं जो लोग बाबा साहब अंबेडकर को गाली देते हैं और मेडिकल कॉलेज का नाम बदल देते हैं उनके साथ मायावती मंच साझा कर रही हैं.

योगी ने गठबंधन पर तंज कसते हुए कहा कि मुझे तो ऐसा लग रहा है कि कहीं यह सपा-बसपा और कांग्रेस के लोग एक ही मंच पर आकर मारपीट न करने लगें और पुलिस में एफआईआर दर्ज करनी पड़े. आने वाले समय में बुआ बोलेंगी कि बबुआ गुंडों का सरताज है और बबुआ बोलेंगे कि वह भ्रष्टाचारियों की सरताज हैं.

इसके बाद सीएम योगी ने कांग्रेस अध्यक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि वह अमेठी से चुनाव हार रहे हैं. अमेठी की जनता पर राहुल गांधी को विश्वास नहीं रहा है, इसलिए वह केरल में जाकर चांद सितारे के झंडे पर विश्वास कर रहे हैं. योगी ने प्रियंका गांधी के सामने बच्चों के अभद्र नारे लगाने वाले वायरल वीडियो का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा कि प्रियंका गांधी वाड्रा एक नारी हैं, उन्हें बच्चों को सही संस्कार देने चाहिए, लेकिन वह तो बच्चों को गाली सिखा रही हैं. भारत का बच्चा- बच्चा राम है और प्रियंका जी भारत के बच्चों को कुसंस्कारित करने का काम मत कीजिए.

...

KNEWS !1 month ago

खबर

इस गांव के लोगों ने आज तक नहीं डाला वोट, दिलचस्प है वजह

एक तरफ जहां चुनावों को देशभर में महापर्व के रूप में मनाया जाता है. वहीं फैज़ाबाद लोकसभा क्षेत्र का एक गांव ऐसा भी है,  जहां के लोगों ने आज तक  मतदान नहीं किया.  लोकतंत्र के उत्सव में कभी भाग नहीं लिया. सबसे बड़ी विडंबना यह है कि आजादी के इतने सालों बाद भी न तो किसी जनप्रतिनिधि ने इस ओर ध्यान दिया, न ही  जिला प्रशासन या चुनाव आयोग ने इसकी सुध ली.

पीढ़ी दर पीढ़ी गुजर गईं, चुनाव दर चुनाव बीत गए,  लेकिन इस गांव में आज तक किसी ने न तो मोहर लगाई, ना ही ईवीएम का बटन दबाया. इस गांव के लोग न तो प्रधान चुनते हैं, ना ही विधायक और सांसद.

देश ने इस वर्ष 70 वां गणतंत्र दिवस मनाया और 17वीं लोकसभा का गठन करने जा रहा है. इसके अतिरिक्त उत्तर प्रदेश में विधानसभा के साथ ही पंचायतों के भी कई चुनाव हो चुके हैं. ऐसे में यदि किसी एक गांव के 100 से अधिक मतदाताओं ने देश की आजादी से लेकर अब तक मतदान ही न किया हो, तो यह बात काफी चौंकाने वाली है.

फैजाबाद लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत मिल्कीपुर विधानसभा क्षेत्र स्थित गद्दोपुर ग्राम सभा का यह बोधी तिवारी पुरवा गांव है, जहां सामान्य वर्ग से जुड़े जाति विशेष के लोग कभी गद्दोपुर गांव नहीं जाते, जहां इन लोगों का मतदान केंद्र पड़ता है. ग्रामीणों का कहना है कि गद्दोपुर के जमींदारों ने उनके पुरखों की बड़ी ज़मीन पर कब्जा कर लिया था, जिसका विरोध उनके पूर्वजों ने भूख हड़ताल करके किया, जिसमें उनकी मौत हो गई. इसके बाद अब तक बोधी तिवारी पुरवा का कोई व्यक्ति गद्दोपुर नहीं गया.

दरअसल बोधी तिवारी पुरवा  के लोगों का मतदान केंद्र गद्दोपुर में ही पड़ता है, इसलिए इनमें से कोई मतदान करने नहीं जाता. ग्रामीणों के मुताबिक, उन्होंने हर चुनाव से पहले प्रशासन से मांग की, कि हमारा मतदान केंद्र कहीं और कर दें,  किन्तु उनकी मांग पूरी नहीं हुई.  लोकसभा के इस चुनाव में भी इस गांव का मतदान केंद्र गद्दोपुर में ही बनाया गया है.

इस संबंध में मिल्कीपुर के एसडीएम से जब बात की गई तो उन्होंने कहा कि, अभी दो दिन पहले ही हमारी जानकारी में यह मामला आया है और अब मतदान केंद्र अलग नहीं किया जा सकता. उन्होंने कहा कि हम कोशिश करेंगे कि समझा- बुझाकर मतदान करा दें. वहीं उन्होंने आश्वासन दिया कि चुनाव संपन्न होने के बाद बोधी तिवारी पुरवा के मतदान केन्द्र को दूसरी जगह स्थापित करा दिया जाएगा.

...

KNEWS !1 month ago

खबर

अखिलेश और योगी एक मंच पर, जाने क्या है पूरा सच

यूपी के बारबकीं में अखिलेश यादव और योगी आदित्यनाथ एक ही मंच पर साथ नजर आए. योगी ने अखिलेश के लिए वोट भी मांगे हैं. चोकिए मत ऐसा सच में हुआ है लेकिन ये असली योगी ने नहीं किया उनके जैसे दिखाने वाले एक शख्स ने समाजवादी पार्टी के लिए वोट मांगते हुए नजर आए. योगी की तरह दिखाने वाले इस आदमी ने योगी की तरह वेशभूषा पहन रखी थी. अखिलेश ने मंच से कहा कि देखो अब तो ये भी हमारे लिए वोट मांगने आ गए हैं.

बारबकीं में चुनाव प्रचार के दौरान जैसे ही मंच पर अखिलेश के साथ योगी का बेहरुपीय मंच पर आया सब लोग परेशान हो गए लेकिन कुछ देर बाद अखिलेश ने खुद इस राज पर से पर्दा उठाया और जनता से चुटकी लेते हुए कहा कि ये गोरखपुर जा रहे थे हम इन्हें बारबकीं ले आए. इतना कहते ही अखिलेश जिंदाबाद के नारे लगने लगे.

लालू के लाल ने अपने ससुर के खिलाफ वोट देने की अपील की.... (आगे पढ़े)

अखिलेश ने बाराबंकी में कहा कि कांग्रेस के लोग कह रहे हैं कि हमने जान बूझकर कमजोर प्रत्याशी लड़ाए हैं. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि बोरी से चोरी हो रही है और नौजवानों की नौकरी चोरी हो गई. जो लोग चाय वाला बनकर आए थे, अब चौकीदार बन गए.

वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को आडे़ हाथ लेते हुए अखिलेश ने कहा कि ठोको नीति से कानून व्‍यवस्‍था ठीक कर रहे थे. बीजेपी के लोगों ने कोई वादा पूरा नहीं किया और विकास रोक दिया है, साथ ही नफरत फैलाने का काम किया है. अखिलेश इतने पर ही नहीं रूके उन्होंने योगी को घेरते हुए ट्वीट भी किया। जिसमें कहा गया था कि ''हम नक़ली भगवान नहीं ला सकते पर एक बाबा जी लाए हैं. ये हमारे साथ गोरखपुर छोड़ प्रदेश में सबको सरकार की सच्चाई बता रहे हैं.'' 

 

...

KNEWS !1 month ago

खबर

यह चुनाव होगा आज़म ख़ान का आखिरी चुनावः जयाप्रदा

लोकसभा चुनाव के बचे हुए तीन चरणों के लिए प्रचार अभियान जारी है. ऐसे में सभी पार्टियों के बड़े चेहरे अपनी सीटों के साथ ही पार्टी के अन्य प्रत्याशियों के प्रचार कार्यक्रमों में भी पहुंच रहे हैं. शुक्रवार को   बाराबंकी में फिल्म अभिनेत्री और भाजपा नेत्री जयाप्रदा ने रोडशो करके भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में माहौल बनाने का काम किया.

जयाप्रदा रामपुर से सपा नेता आज़म ख़ान के खिलाफ चुनाव लड़ रही हैं. गौरतलब है कि आज़म ख़ान और उनके बेटे अब तक जयाप्रदा पर कई विवादित बयान दे चुके हैं. इसके चलते भाजपा नेत्री ने भी अपने रोडशो के बाद संवाददाता सम्मलेन में आज़म ख़ान पर जमकर निशाना साधा.

जयाप्रदा ने सपा नेता पर हमला बोलते हुए कहा कि, इस चुनाव के बाद आज़म खान कभी चुनाव लड़ने के काबिल नहीं रहेंगे. यह उनके लिए आखिरी चुनाव साबित होगा. बाराबंकी में रोडशो के जरिए रामपुर भाजपा प्रत्याशी ने चुनाव को भाजपा के पक्ष में मोड़ने का पूरा प्रयास किया. जयाप्रदा के रोडशो में बाराबंकी में भी भारी संख्या में भीड़ मौजूद रही..

रोडशो के बाद आयोजित संवाददाता सम्मलेन में जयाप्रदा ने जहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की शान में कसीदे पढ़े, तो दूसरी तरफ सपा नेता के अब तक के बयानों पर उन्हें तीखे जवाब भी दिए.

जयाप्रदा ने कहा कि जनता महिलाओं के बारे में की गयी आज़म ख़ान की टिप्पणी से काफी आहत हैं. यह कौन होते हैं महिलाओं का लिबास देखने वाले, उन्होंने बाहर क्या पहना है,  अन्दर क्या पहना है, इस पर टिप्पणी करने वाले. यह सभी महिलाओं का अपमान है और अब जनता उनको जवाब दे रही है. जयाप्रदा ने भविष्यवाणी करते हुए कहा कि यह चुनाव आज़म खान का आखिरी चुनाव साबित होगा. 

 

...

KNEWS !1 month ago

खबर

मतदान से ठीक पहले बारांबकी में कांग्रेस का बड़ा दांव

लोकसभा चुनाव में अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए प्रत्याशी तरह- तरह के सियासी हथकंडे अपना रहे हैं. आज बाराबंकी में कांग्रेस के  राष्ट्रीय प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद डॉ पी.एल.पुनिया ने सबसे बड़ा चुनावी दांव खेला है. बता दें कि पी.एल.पुनिया के बेटे तनुज पुनिया बाराबंकी सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार हैं. वहीं उनके इस दांव की काट निकाल पाना विरोधियों के लिए आसान नहीं होगा, क्योंकि मतदान में अब ज्यादा समय नहीं बचा है.

बाराबंकी लोकसभा सीट पर दिलचस्प त्रिकोणीय मुकाबला देखा जा रहा है. इस बीच डॉ. पी.एल.पुनिया ने जो पत्ता खेला है, उसने इस सीट पर सियासी उथल- पुथल तेज कर दी है. दरअसल डॉ. पुनिया ने बाराबंकी में मतदाताओं के बीच खासी पकड़ बना चुकी पीस पार्टी को आज अपने पाले में करके सबको चौंका दिया. जब तक यह बात किसी तक पहुंचती, तब तक पुनिया ने प्रेस में इसकी घोषणा भी कर दी.

पीस पार्टी के जिला अध्यक्ष मसूद रियाज़ ने इस अवसर पर कहा कि, उनकी पार्टी बाराबंकी में लोकसभा का चुनाव नहीं लड़ रही है और उन्होंने अपने संगठन को पूरे 5 साल तक जिले के हर बूथ पर मजबूत किया है. हमने अपने कार्यकर्ताओं से बात करके बाराबंकी में कांग्रेस पार्टी के प्रत्याशी को समर्थन देने का एलान किया है. इस चुनाव के लिए जनपद में उनका पूरा संगठन कांग्रेस को समर्पित है. मसूद रियाज ने कहा कि बड़ी उम्मीदों के साथ यहां के किसानों ने, नौजवानों ने मोदी को प्रधानमंत्री बनाया था, लेकिन वह उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे.

इस दांव पर डॉ. पी.एल.पुनिया ने कहा कि पीस पार्टी ने उन्हें जो समर्थन दिया है, उसके लिए उन्हें धन्यवाद. कांग्रेस पार्टी जन आकांक्षाओं पर हमेशा से खरा उतरती रही है और आगे भी खरा उतरती रहेगी. कांग्रेस का संकल्प है कि भारत के हर गरीब को न्याय योजना के तहत न्यूनतम आय उपलब्ध कराएगी, 72000 रुपये का लाभ देकर गरीबी पर वार किया जाएगा. पीस पार्टी के साथ आने से उनकी जीत और आसान हो जाएगी.

 

...

KNEWS !1 month ago

खबर

पूर्व कांग्रेस विधायक बीजेपी में शामिल, राहुल को वोटिंग से पहले अमेठी में झटका

उत्तर प्रदेश के अमेठी में बड़ा मुस्लिम चेहरा माने जाने वाले डॉ. मोहम्मद मुस्लिम ने अब बहुजन समाज पार्टी का साथ छोड़कर बीजेपी का दामन थाम लिया है. हालांकि, इससे पहले वो कांग्रेस व सपा के टिकट पर भी विधायक रह चुके हैं, लेकिन विधानसभा चुनाव 2017 से पहले वह कांग्रेस छोड़कर बसपा में शामिल हो गए थे. अब डॉ. मुस्लिम ने बीजेपी में शामिल हो गए हैं. 

हालांकि, डॉ मुस्लिम रायबरेली के रहने वाले हैं और अमेठी जिले की तिलोई से सियासत करते हैं. इस सीट से वो 2012 के यूपी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के टिकट पर विधायक निर्वाचित हुए थे, जबकि उससे पहले 1996 में वो सपा के टिकट पर जीते थे. विधानसभा चुनाव 2017 से ऐन पहले डॉ मुस्लिम कांग्रेस छोड़कर बसपा के साथ चले गए थे. बसपा सुप्रीमो मायावती ने उनके बेटे को विधानसभा का टिकट दिया था, जो बीजेपी के प्रत्याशी से हार गए थे.

अमेठी कांग्रेस पार्टी और गांधी परिवार का गढ़ है. फिलहाल कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अमेठी लोकसभा सीट से ही सांसद हैं. लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी को जिताने में मुस्लिम वोटरों की अहम भूमिका मानी जाती है.

पूरी खबर पढ़े....Mumbai Indians ने रोका Chennai Super Kings का रथ

डॉ. मुस्लिम ने बुधवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बीजेपी का दामन थामने का ऐलान किया. उनको अमेठी में कांग्रेस के मुस्लिम प्रतिनिधि के तौर पर जाना जाता रहा है. बुधवार को आजतक से खास बातचीत में डॉक्टर मुस्लिम ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से लोगों का मोह भंग हो चुका है. गांधी परिवार इतने वर्षों से अमेठी लोकसभा सीट से जीतता आ रहा है, लेकिन राहुल गांधी ने कभी अमेठी की सुध नहीं ली.

डॉ मुस्लिम ने एक ओर कांग्रेस पर हमला बोला, तो दूसरी ओर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की जमकर तारीफ की. उन्होंने कहा, 'स्मृति ईरानी पिछले लोकसभा चुनाव के दौरान अमेठी आई थीं. वो उस बार चुनाव हार गई थीं, लेकिन इसके बावजूद वहां जिस तरीके से लोगों के सुख-दुख में खड़ी हैं, इससे मैं बहुत प्रभावित हुआ. इससे मैं कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आने के लिए भी प्रेरित हुआ.' डॉक्टर मुस्लिम ने दावा किया कि इस बार अमेठी में राहुल गांधी के लिए परिस्थितियां बेहद खराब हैं. उनसे लोग खासे नाराज हैं. ऐसे में राहुल गांधी का चुनाव हारना संभव है.

इस दौरान भारतीय जनता पार्टी के नेता मोहसिन रजा ने कहा कि डॉक्टर मुस्लिम अमेठी के प्रतिष्ठित परिवार से आते हैं. वो दो बार विधायक रहे हैं. इतना ही नहीं, वो कांग्रेस और खासकर गांधी परिवार के बेहद करीबी रहे हैं और अमेठी से कांग्रेस की जीत में इनका बड़ा योगदान रहा है. 

...

KNEWS !2 months ago

खबर

दोहरे हत्याकांड में एकदम सटीक बैठी पुलिस के शक की सुई, पति ही निकला हत्यारा

बाराबंकी जिले के सफदरगंज क्षेत्र के लक्षबर बजहा गांव में हुए दोहरे हत्याकांड को लेकर पुलिस की शक की सुई एकदम सटीक बैठी है। महिला कविता की हत्या के पीछे कोई और नहीं बल्कि उसका ही पति गुुरुदीन निकला। पड़ताल में पुलिस ने जब तमाम कड़ियों को जोड़ा तो पता चला कि गुरुदीन और उसकी पत्नी कविता दोनों ही शराब के आदी थे और आए दिन दोनों के बीच विवाद हुआ करता था। यही नहीं, कविता के साथ उसके उसी बेटे की हत्या हुई जो उसके पहले पति का था। ऐसे में पुलिस के शक की सुई गुरुदीन की तरफ गई। जब पुलिस टीम ने घायल गुरुदीन से सख्ती से पूछताछ की तो पता चला कि उसी ने नशे में पत्नी समेत बच्चों पर हमला किया था। जिसमें एक लड़के और पत्नी कविता की मौत हो गई।

पुलिस की स्पेशल टीम ने अंतर्जनपदीय इनामी लुटेरा दबोचा.... (आगे पढ़े)

वहीं इस वारदात का खुलासा करते हुए एसपी डॉक्टर सतीश कुमार ने बताया कि मोके पर जब हम लोग पहुंचे तो वहां की हालत थोड़ा संदिग्थ लग रही थी। गांव वाले कुछ बताने को तैयार नहीं थे। बाद में मौके पर जब हम लोगों ने पूछताछ की तो कई सुराग मिले। उसके बाद मृतका का पति गुरुदीन जो जिंदा बच गया था, उससे भी हम लोगों ने कड़ाई से पूछताछ की। फिर-- गुरुदीन ने दो दिन बाद खुद खुलासा किया कि शराब के नशे में उसका पत्नी के साथ झगड़ा हुआ था। जब पत्नी ने गुरुदीन को मारा तो उसे और उसके बड़े बेटे को चोट आई। जिसमें बड़े बेटे की तो मौके पर मौत हो गई लेकिन गुरुदीन बेहोश हो गया। बाद में जब ये उठा तो वह बहुत नशे में था। नशे में ही इसने सभी को बहुत मारा। जिसमें इसकी पत्नी की मौत हो गई। गुरुदीन अस्पताल में भर्ती है और वारदात का खुद खुलासा कर रहा है।

...

KNEWS !3 months ago

खबर

मालिक ने खड़खड़े पर लाद दिया इतना भार, हवा में लटक गया बेजुबान घोड़ा

बाराबंकी में एक शख्स ने अपने घोड़े के ऊपर इतना भार लाद दिया कि वह उस भार को सह न सका। घोड़ा खड़खड़े पर लदे वजन की वजह से हवा में लटक गया और तड़पने लगा। बेजुबान घोड़े पर उसके मालिक की निर्ममता देखकर सभी हैरान थे। घोड़े की इस हालत को देखकर वहां मौजूद लोग दौड़कर खड़खड़े के पास पहुंचे और घोड़े को संभालने में लग गए। चौराहे पर काफी हलचल मच गई और सड़क पर लंबा जाम लगने लगा। इस दौरान चौराहे पर कोई ट्रैफिक पुलिस भी नजर नहीं आई, जो जाम से निजात दिला सकती। काफी देर बाद चौराहे पर तैनात होमगार्ड वहां मौके पर पहुंचे और किसी तरह वहां मौजूद लोगों की मदद से खड़खड़े का सामान नीचे उतरवाया और घोड़े को काबू में किया जा सका।

राहुकाल में हुआ चुनाव तारीखों का ऐलान, चुनावी परिणाम पर होगा ऐसा असर... (आगे पढ़े)

इस दौरान जब हमने खड़खड़ा मालिक से बात की तो काफी देर बाद उसने बताया कि 5 से 6 क्विंटल सामान लाद रखा था। हालांकि घोड़े की तकलीफ देखकर मालिक के ऊपर कोई फर्क पड़ता दिखाई नहीं पड़ा।

...

KNEWS !3 months ago

खबर

खेल में बच्चों को मिली सोने की ईंट, पुलिस ने शुरू की जाँच

बाराबंकी में खेलते हुए बच्चे को एक पीली धातु की ईंट मिल गयी, जिसे ग्रामीण सोने की बता रहे हैं, मगर पुलिस उसे पीतल का मामूली टुकड़ा होने की बात स्वीकार कर रही है हालांकि पुलिस का यह भी कहना है कि अभी इस धातु की और जाँच करवाई जा रही है। उधर इस धातु के मिलने से ग्रमीणों के दो पक्षों में झगड़े की नौबत आ गयी है । जिस लड़के को यह धातु मिली उससे दूसरे लड़के ने उसे छीन लिया और बाद में पुलिस की सख्ती के बाद उसे एक तालाब से बरामद तो कर लिया गया मगर ग्रामीणों का कहना है कि जो पुलिस को प्राप्त हुआ वह मात्र आधा टुकड़ा ही है। इस बात को लेकर गांव में भी तनाव का माहौल है । 

बाराबंकी जनपद के थाना फतेहपुर इलाके के हैदरगंज गाँव में कुछ बच्चे खेल रहे थे। खेल-खेल में गेंद एक खेत में चली गयी। जिसे ढूंढने एक लड़का नितिन पहुँचा। गेंद के साथ उसे एक चमकती हुई धातु दिखाई दी जो देखने में एकदम सोने के समान थी। गेंद के साथ नितिन जब उस धातु को अपने साथियों को दिखाने लगा तो साथ ही खेल रहे दूसरे बच्चे मेराज ने उसे अपनी माँ को दिखाने की बात कह कर छीन लिया। यही बात जब नितिन ने घर में अपनी माँ को बताई तो उसकी माँ ने उस धातु को वापस लाने को कहा। नितिन की माँ की अगर मानें तो धातु वापस माँगने पर मेराज के घर वाले झगड़ें पर आमादा हो गए। धातु वापस न मिलता देख नितिन की माँ ने डायल 100 पर फोन करके पुलिस को सूचना दी।

Ayodhya Case: "अतीत को नहीं बदल सकते, आज की बात करे"- SC ... (आगे पढ़े)

ग्रामीणों की अगर माने तो गाँव में पुलिस आयी थी और मेराज की माँ पर सख्ती के बाद उस पीली धातु को पास के एक तालाब के अन्दर से बरामद कर लिया। ग्रामीणों ने बताया कि जो धातु तालाब से पुलिस ने निकाली वह मिली हुई धातु के आधी थी। वह 100 फीसदी सोने की ही ईंट है। जिसे आधा काट लिया गया है। ग्रामीणों की इस बात को मेराज पूरी तरह से नकार रहा है और कहता है कि जो पुलिस ने बरामद की उतनी ही धातु वास्तव में मिली ही थी ।

बाराबंकी के अपर पुलिस अधीक्षक आर.एस. गौतम ने बताया कि 2 तारीख को एक पीली चमकने वाली धातु बच्चों को मिली थी। जिसकी सूचना पुलिस को दी गयी थी, पुलिस मौके पर पहुंची और तालाब से 558 ग्राम की उस धातु को बरामद कर लिया था। जिसे थाने के कब्जे में रखा गया है। प्राथमिक जाँच में यह धातु पीतल साबित हुई है मगर इस धातु की और भी जाँच करवाई जा रही है। जाँच में जो भी तथ्य सामने आएंगे उसके अनुसार कार्यवाई की जाएगी ।

...

KNEWS !3 months ago

मुख्य ख़बरे

राम मंदिर के लिए एक और बलिदान को तैयार रहें : विनय कटियार...

मौलाना कल्बे सादिक ने कहा-जय राम......

सुल्तानपुर पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ...

बस और डंपर की टक्कर, 4 लोगों की मौके पर मौत...

निशाना भीमराव रामजी अंबेडकर...

चौपाल लगा कर जनता की समस्याओं को सुन रहें मंत्री...

जोश-ए-जवानी

भारत में ऐसे लोगों की संख्या तेजी से बढ़ रही है जिनमें सेक्स के प्रति इच्छा में कमी देखी जा रही है और ज्यादातर लोग अपराधबोध की वजह से इस बारे में खुलकर बात भी नहीं कर पाते हैं लेकिन क्या आप जानते है कैसे सेक्स आपकी कैलोरी बर्न करने में मदद करता है, दरअसल कुछ वक्त पहले एक स्टडी सामने आई थी, जिसमें कहा गया कि सेक्स से कैलोरी बर्न करने में मदद मिलती