Live Tv

Thursday ,18 Apr 2019

चार मंजिला शोरूम में लगी आग, कुत्ते ने अपनी जान गंवाकर बचाई 35 जिंदगी

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Apr 13-2019 12:10:45pm
knews, news, khabar, taaza khabar, kanpur news, latest news, breaking news, hindi news, आग, ज़िन्दगी, पालतू, कुत्ता, बिल्डिंग, गली, बांदा, इलाहबाद, फर्नीचर, फायर ब्रिगेड, सूचना, जिलाधिकारी, गैस सिलेंडर, इलेक्ट्रॉनिक, शोरूम, मालिक, फरार, मलबा, प्लाईवुड, घटना, पुलिस, शार्ट सर्किट, गोदाम

बांदा के अतर्रा कस्बे के रिहायशी इलाके में चार मंजिला इलेक्ट्रॉनिक और फर्नीचर शोरूम में आग लग गयी, जिससे करोड़ों का माल जलकर खाक हो गया। आग और धमाकों से बिल्डिंग समेत आसपास के 4 अन्य मकान भी आग के चपेट में आकर ख़ाक हो गए। राहत की बात यह रही कि शोरूम मालिक के पालतू कुत्ते ने भौंककर 35 लोगों की समय रहते जान बचा ली लेकिन खुद जंजीर से बंधा होने के कारण वह अपनी जान गंवा बैठा। कुत्ते का शोर सुनकर बिल्डिंग के ऊपरी हिस्से में रह रहे परिजन जाग गए और आसपास के लोगों को भी बाहर निकालकर फायर ब्रिगेड को सूचना दी । लगभग 24 घण्टे बाद मण्डल के चारो जिलों की फायर ब्रिगेड गाड़ियों ने बड़ी मशक़्क़त के बाद आग बुझाई।  

बिल्डिंग के बेसमेंट और 1st फ्लोर में फर्नीचर, दूसरे और तीसरे में इलेक्ट्रॉनिक शोरूम और चौथे फ्लोर पर परिवार रहता था। फायर ब्रिगेड की गाड़ी ने आग बुझाने का प्रयास किया पर असफल रहे, गैस सिलेंडर के धमाकों से चार मंजिला बिल्डिंग गिर गयी जिससे मलबे की वजह से दो तरफ से रास्ता बंद हो गया और फायर ब्रिगेड की गाडी मौके तक नहीं पहुंच पाई, जिसपर आग बढ़ती गयी। हालात को देखते हुए बांदा मण्डल के चारो जिलों की फायर ब्रिगेड की दर्जनों गाड़ियाँ मौके पर पहुंची व आग बुझाने का प्रयास किया, लगभग 24 घंटे की कड़ी मशक़्क़त के बाद फायर ब्रिगेड की गाडी आग बुझान में सफल रही, पर तब तक बेसमेंट, बिल्डिंग और बगल के 4 मकानों का सारा सामन जलकर ख़ाक हो चुका था। सूचना मिलते ही जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक सहित कई पुलिस अधिकारी मौके पर पहुँच गए । इस आगजनी की घटना में करोड़ों का माल व सामन जलकर ख़ाक होना बताया जा रहा है।      

हास्य कवि प्रदीप चौबे का 70 की उम्र में निधन. (आगे पढ़े)

 स्थानीय निवासियों ने बताया की चार मंजिला शोरूम में आग लगी थी, जिससे बगल के 4 मकान भी चपेट में आकर जलकर राख हो गए, कुत्ते के भौकने की आवाज सुनकर हम सभी अपनी जान बचाकर बाहर निकले व कुत्ता बंधे होने के कारण अपनी जान गवा बैठा । बताया की इस घटना में करोडो का सामन व माल जलकर ख़ाक हुआ है । इस घटना के बारे में फायर अधिकारी विनय कुमार ने बताया कि "राकेश फर्नीचर" के बेसमेंट में शार्ट सर्किट से यह आग लगी जहां प्लाईवुड का अवैध गोदाम था, पिछले 24 घंटे से हम आग बुझाने का प्रयास कर रहे थे लेकिन अब आग बुझाने में सफल हो पाए हैं । इमारत में सिलेंडरों से कई ब्लास्ट भी हुए हैं, बिल्डिंग से सटे 4 मकान भी ध्वस्त हो गए हैं, मौके पर चारो जिलों की दर्जनों फायर ब्रिगेड गाड़ियां बराबर डटी रही थी, जेसीबी मशीनें मलबा हटाने में जुटी थीं, राहत एवं बचाव कार्य जोरों पर रहा है, घटना-स्थल रिहायशी और तंग गली में होने के कारण राहत और बचाव कार्य में कठिनाई हुई थी, मौके से शोरूम मालिक फरार है । हम इन पर एफआईआर दर्ज कराने की तैयारी कर रहे हैं क्योंकि यह अवैध तरीके से रिहायशी इलाके में कमर्शियल गतिविधियां चला रहे थे, हमें इनके अवैध शोरूम और गोदाम के बारे में कोई सूचना नहीं थी ।"