Live Tv

Wednesday ,17 Jul 2019

अमित शाह के रोड शो में ममता दीदी की दादागिरी, अमित शाह बोले 300 से ज्यादा सीटें जीत रहे

VIEW

Reported by Knews

Updated: May 15-2019 12:02:18pm
latest news, news, kanpur news, knews, breaking news, hindi news, hindi khabar, taza khabar,  big breaking news,  amit shah road show in west bengal claimed to win 300 plus seats, amit shah, BJP adhyaksh amit shah, road show in west bengal, election, voting, rajnath singh, devendra fadnavis, narendra modi, mamaya banerjee, अमित शाह के रोड शो में ममता दीदी की दादागिरी, अमित शाह बोले 300 से ज्यादा सीटें जीत रहे

भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह ने बुधवार को प्रेस कांफ्रेंस कर कोलकाता में रोड शो के दौरान हुई हिंसा में तृणमूल कांग्रेस समर्थकों का हाथ बताया। उन्‍होंने कहा कि तृणमूल कांग्रेस अपनी सत्‍ता बचाने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है, कल यदि सीआरपीएफ नहीं होती तो मेरे लिए वहां से बचकर निकलना मुश्किल था। मेरे बहुत कार्यकर्ता मारे गए हैं, मुझ पर हमला स्वभाविक है। उन्‍होंने कहा कि इस लोकसभा चुनाव में हम पूर्ण बहुमत का आंकड़ा पार कर चुके हैं, हम 300 से अधिक सीटें जीतने जा रहे हैं। 

भाजपा अध्‍यक्ष मंगलवार को रोड शो के दौरान हुई हिंसा का जिक्र करते हुए कहा कि रोड शो में कम से कम दो-ढाई सौ लोग आए थे, कहीं भी एक इंच जगह नहीं थी। रोड शो के दौरन तृणमूल कांग्रेस समर्थकों ने भाजपा कार्यकर्ताओं को उकसाया। उन्‍होंने हमारे काफ‍िले पर तीन बार हमले किए, पत्थरबाजी की, केरोसिन बम फेंके। उन्‍होंने कहा कि परिसर का गेट टूटा नहीं था, भाजपा कार्यकर्ता भी बाहर थे, तृणमूल समर्थक भीतर, तो मूर्ति किसने तोड़ी...? टीएमसी के गुंडों ने ईश्‍वरचंद्र विद्यासागर की प्रतिमा को तोड़ा। 

पूरी खबर पढ़े....बलिया में पीएम मोदी ने बोला 'गालियों का जवाब मोदी ये नहीं जनता देगी'

बता दें कि कोलकाता में मंगलवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान पथराव, आगजनी, लाठीचार्ज की घटनाएं हुईं। शाह जिस वाहन पर सवार थे, उस पर डंडे फेंके गए और भाजपा समर्थकों पर पथराव किया गया। भाजपा ने इस हिंसा के पीछे तृणमूल का हाथ बताया है। हिंसा में दोनों पक्षों के कई लोग जख्मी हो गए हैं। घटना के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी व कोलकाता पुलिस आयुक्त राजेश कुमार विद्यासागर कॉलेज पहुंचे और हालात का जायजा लिया। 

इससे पहले छठे चरण में आठ सीटों पर मतदान के दौरान घायल से भाजपा प्रत्‍याशी भारती घोष पर हमला किया गया था। एक अन्‍य घटना में इसी चरण की वोटिंग के दौरान प्रदेश भाजपा अध्‍यक्ष दिलीप घोष पर भी हमले की कोशिश की गई थी। गौर करने वाली बात यह है कि पश्चिम बंगाल में चुनाव के दौरान केंद्रीय बलों की 713 कंपनियां और  कुल 71 हजार सुरक्षाकर्मियों की तैनाती के बावजूद हिंसा की घटनाएं थम नहीं रही हैं। 

पश्चिम बंगाल में भाजपा अध्‍यक्ष के रोड शो के दौरान हुई हिंसा पर भाजपा नेता एवं महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि ममता जी आम चुनावों में अपनी हार को नजदीक देखकर हताश हो गई हैं। इसी कारण वह लोकतंत्र की हत्‍या कर रही हैं। मैं निर्वाचन आयोग से अपील करता हूं कि वह राज्‍य में स्‍वतंत्र एवं निष्‍पक्ष चुनाव कराए। 

कल गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने पश्चिम बंगाल की चुनावी हिंसा के लिए सीधे तौर पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को जिम्मेदार ठहराया था। उन्होंने साफ किया कि संविधान के संघीय ढांचे के तहत कानून-व्यवस्था की पूरी जिम्मेदारी राज्य सरकार की है और वह इससे बच नहीं सकती हैं। पश्चिम बंगाल में चुनावी हिंसा को निंदनीय बताते हुए राजनाथ ने कहा कि लोकतंत्र में इसके लिए कोई जगह नहीं है।