Live Tv

Thursday ,18 Apr 2019

क्राइस्टचर्च शूटआउट के कारण न्यूजीलैंड और बांग्लादेश का तीसरा टेस्ट मैच रद्द

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Mar 15-2019 12:20:45pm
latest news, news, kanpur news, knews, breaking news, hindi news, hindi khabar, taza khabar, क्रिकेट, क्राइस्टचर्च शूटआउट, न्यूज़ीलैंड, बांग्लादेश, NZvsBAN, मौत, मैच रद्द, मेनिफेस्टो, मीडिया रिपोर्ट्स, गोलीबारी, अंधाधुंध फायरिंग, ऑस्ट्रेलिया, अल नूर मस्जिद, डीन एवेन्यू, कार, पार्क, वीडियो, प्रवक्ता, खिलाड़ी, ट्वीट, हमला, खेल, दुआ, फायरिंग, बंदूक, मस्जिद, देश, जानकारी, टेस्ट मैच

गुरूवार को न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च के दो मस्जिदों में गोलीबारी होने के बाद पूरा देश अलर्ट पर है। इसी कारण न्यूजीलैंड और बांग्लादेश के बीच होने वाले तीसरे टेस्ट मैच को रद्द कर दिया गया है। इसकी जानकारी न्यूजीलैंड क्रिकेट के प्रवक्ता ने दी। एक अधिकारी ने बताया कि यह हमला अभी सबसे बड़ी चिंता का विषय है इसलिए अभी खेल के प्रति कोई विचार नहीं है। खिलाड़ियों को अभी कुछ समय देना चाहिए। 

बता दें, जिस वक्त मस्जिद में गोलीबारी हुई बांग्लादेश की क्रिकेट टीम वहां पर ही मौजूद थी। हालांकि, टीम के सदस्य पूरी तरह से सुरक्षित हैं। बांग्लादेश के खिलाड़ियों ने ट्वीट कर इस बात की पुष्टि की है। बांग्लादेशी क्रिकेटर तमीम इकबाल ने भी ट्वीट कर बताया कि उनकी पूरी टीम इस समय सुरक्षित है। 

MUMBAI ACCIDENT: चलते वक्त हिलता था पुल, BMC और रेलवे को लिखी जा चुकी थी चिट्ठी पर कोई कार्यवाई नहीं... (आगे पढ़े)

हमलावर ने गोलीबारी का बनाया लाइव वीडियो

न्यूजीलैंड की मीडिया के मुताबिक, क्राइस्टचर्च के मस्जिदों में फायरिंग का बंदूकधारी ने १७ मिनट तक लाइव वीडियो बनाया। बंदूकधारी की पहचान ब्रेंटन टैरंट के रूप में हुई है। २८ वर्षीय ब्रेंटन टैरंट ऑस्ट्रेलिया का रहने वाला है। बंदूकधारी ने पहले डीन एवेन्यू में अल नूर मस्जिद के पास अपनी कार पार्क की। इसे बाद उसने बंदूक निकाली और मस्जिद में घुसते ही अंधाधुंध फायरिंग करने लगा। फायरिंग से पहले उसने ७३ पन्नों का एक मेनिफेस्टो जारी किया था। 

मरने वालों की संख्या दो दर्जन से अधिक 

इस गोलीबारी में मरने वाली की संख्या अभी साफ नहीं है, लेकिन स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया कि इस गोलीबारी में करीब दो दर्जन से अधिक की मौत हुई है। बंदूकधारी के हमले के बाद लोगों की भीड़ मस्जिद के दरवाजों से बाहर निकलने की कोशिश कर रही थी। मस्जिद के इमाम अहमद अल-महमूद ने कहा कि बंदूकधारी अंदर घुसा और अंधाधुंध फायरिंग करने लगा।