Live Tv

Thursday ,29 Oct 2020

श्रीलंका में क्यों डर के साए में जीने को मजबूर है मुस्लिम

VIEW

Reported by Knews

Updated: Apr 26-2019 10:26:52am
latest news, news, kanpur news, knews, breaking news, hindi news, hindi khabar, taza khabar, श्रीलंका , पाकिस्‍तानी, पाकिस्‍तानी शरणार्थियों, मुस्लिम काउंसिल ऑफ श्रीलंका, मुसलिम लोगों,sri-lankans target muslim refugees, pakistan,ईस्टर,कोलंबो, big news, breaking news, badi khabar, srilanka news,  pakistan, pakistan news, pakistan breaking news, election news, loksabha election news, election 2019 news, easter attack news,

ईस्टर पर हुए श्रीलंका में सीरियल ब्लास्ट में 254 लोगों की मौत हो गई. हमले के बाद अब स्थानीय लोगों का गुस्सा पाकिस्तान शरणार्थियों पर निकाल रहा है. हिंसक भीड़ ने कई जगह मुस्लिम लोगों पर हमला किया. कोलंबो के उपनगरीय इलाके नेगोंबो में 800 मुस्लिम शरणार्थियों को घर छोड़ने के लिए मजबूर किया गया. जिसमें महिलाएं और बच्चे भी शामिल है.  

मुस्लिम काउंसिल ऑफ श्रीलंका के वाइस प्रेजिडेंट हिल्‍मी अहमद ने एक भारतीय अखबार को बताया कि हिंसक भीड़ ने किराए पर रहा रहे मुस्लिम शरणार्थियों को घर में घुसकर पुरूष के साथ मारपीट की और उनको घर से निकला दिया. इस हिंसा में मकान मालिक भी शामिल है करीब 800 मुस्लिम लोगों को घर से निकाल दिया गया है. 50 से आधिक लोगों ने पुलिस स्टेशन में शरण ली. संयुक्‍त राष्‍ट्र मानवाधिकार परिषद ने मदद कि पेशकाश की है. सरकार से हम ने मुस्लिम लोगों की सुरक्षा मांग की है. लेकिन इस ओर अभी कोई ध्यान नहीं दिया है. लोगों को बसों में भर के सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया है. शरणार्थियों के घर पूरी तरह से तोड़ दिया है. मुस्लिम शरणार्थियों को अब संयुक्‍त राष्‍ट्र मानवाधिकार परिषद की तरफ देख रहे हैं. 

मृतकों की संख्‍या 359 से घटकर 253 

इस बीच श्रीलंका में ईस्‍टर पर हुए हमलों में मरने वालों की संख्‍या 359 से घटाकर 253 बताई गई है. अधिकारियों का कहना है कि सभी शवों के पोस्‍टमॉर्टम हो चुके हैं. पोस्‍टमॉर्टम और डीएनए रिपोर्ट का मिलान करने पर पता चला है कि कुछ शवों की दो बार गिनती हो गई थी. स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, कुछ शव इतनी बुरी तरह क्षत-विक्षत हो गए थे कि उनकी दो बार गिनती कर दी गई थी.