Live Tv

Saturday ,14 Dec 2019

व्हाट्सएप का यूज़र्स को नया तोहफा साल के अंत में दे सकता है ये सुविधा

VIEW

Reported by Knews

Updated: Sep 20-2019 12:08:49pm

नई दिल्ली : व्हाट्सप्प एक नइ  सुविधा साल के अंत तक अपने यूजर्स को देने वाला है WhatsApp काफी समय से अपने यूजर्स की सुविधा के लिए पैमेंट सर्विस की लॉन्च करने की योजना बना रही है। जो कि यूजर्स और छोटे व्यापारियों के लिए काफी लाभदायक हो सकती है। वॉट्सऐप इंडिया ने कहा है कि कंपनी साल के अंत तक भारत में पेमेंट सर्विस लाने की तैयारी कर रही है। कंपनी इस सर्विस को 2017 से ही इनवाइट-ओनली बेसिस पर टेस्ट कर रही है। हालांकि, दो साल बाद भी वॉट्सऐप की ओर से ऑफिशली इसे इंडियन मार्केट में लॉन्च नहीं किया गया है।

वॉट्सऐप पेमेंट्स सर्विस की ओर से आई पिछली रिपोर्ट्स के करीब दो महीने बाद लॉन्च से जुड़ी यह जानकारी सामने आई है। पिछले अपडेट के करीब दो महीने बाद लॉन्च से जुड़ा अपडेट सामने आने के चलते अभी से कहा नहीं जा सकता कि इस सर्विस के ऑफिशल लॉन्च की टाइमलाइन क्या होगी। हालांकि, वॉट्सऐप इंडिया हेड अभिजीत बोस ने को दिए एक इंटरव्यू में नया अपडेट दिया है। इंटरव्यू में उन्होंने कहा, 'हमें उम्मीद है कि साल के अंत तक हम यह सर्विस यूजर्स को देंगे।' कंपनी अपने इस पेमेंट सिस्टम को वॉट्सऐप फॉर बिजनस ऐप के साथ इंटीग्रेट कर सकती है।

वॉट्सऐप अपने पेमेंट सिस्टम को भी 'एंड-टू-एंड कम्युनिकेशन साइकल' के साथ इनेबल करना चाहता है, जिससे कस्टमर्स और छोटे बिजनस के बीच ऐप की मदद से एनक्रिप्टेड पेमेंट हो सके। इसकी मदद से न सिर्फ छोटे बिजनस की सेल बढ़ेगी, बल्कि पेमेंट एक्सपीरियंस भी कहीं बेहतर हो जाएगा। अभिजीत ने कहा कि वॉट्सऐप फॉर बिजनस एपीआई चैटिंग ऐप की तरह फ्री नहीं है क्योंकि बिजनस एपीआई एक पूरी तरह अलग प्रॉडक्ट है। साथ ही ऐप पर नया पेमेंट सिस्टम छोटे-बड़े सभी बिजनस को आने वाले अपडेट्स के साथ सपॉर्ट करेगा। पिछली रिपोर्ट्स के मुताबिक, वॉट्सऐप ने अपनी डेटा प्रैक्टिसेज के लिए ऑडिट भी शुरू कर दिया है।

बता दें, वॉट्सऐप ने पिछले साल अक्टूबर में कहा था कि उसने भारत में पेमेंट्स से संबंधित डेटा को स्टोर करने के लिए एक सिस्टम डिवेलप किया है। इसकी पेमेंट सर्विस का मुकाबला पेटीएम, फोनपे और गूगल पे से होगा। उसका कहना था कि यह रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) की ऐसे डेटा को देश में स्टोर करने की पॉलिसी के अनुसार है। RBI और NPCI ने कमर्शल डेटा को देश में स्टोर करने को अनिवार्य बनाया है, लेकिन भारत पर्सनल डेटा की सुरक्षा पर भी पर्सनल डेटा प्रोटेक्शन बिल के जरिए सुनिश्चित करना चाहता है। बताते चलें कि वॉट्सऐप के लिए भारत दुनिया में सबसे बड़ा मार्केट है।