Live Tv

Sunday ,20 Jan 2019

पथरी की समस्या से बचने के लिए अपनाएं ये नुस्खे...

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Feb 14-2018 10:21:14am

नई दिल्ली : पथरी होना आजकल एक आम समस्या बन गयी है, जिससे अधिकतर युवा लोग परेशान हैं। इस समस्या की सबसे बड़ी वजह है हमारा गलत तरह का खान-पान करना और पानी कम मात्रा में पीना। पथरी का मतलब यहां केवल पत्थर से नहीं होता है।

 

क्योंकि हमारे शरीर के अंदर कई तरह के खनिज होते हैं जब यह एक जगह पर जम जाते हैं तब यह पथरी का रूप ले लेते हैं। अगर किसी को पथरी हो जाये तो उसको बहुत तकलीफ झेलनी पढ़ती है पथरी की  समस्या मर्दों मे अधिक पाई जाते है और ज़्यादातर पथरी 20 से लेकर 30 साल तक के लोगों में देखने को मिलते हैं।

 

ये पढ़े : होगी skin oil free, अपनाएं ये नुस्खे...

 

पेशाब में कैल्शियम ऑक्जलेट या अन्य क्षारकणों (Crystals) का एक दूसरे से मिल जाने से कुछ समय बाद धीरे-धीरे मूत्रमार्ग में कठोर पदार्थ बनने लगता है, जिसे पथरी के नाम से जाना जाता है। पथरी हमारे शरीर में यूरियन मे केमिकल कि अधिकता, शरीर मे मिरिनल कि कमी, डीहाईड्रिशन, विटामिन D कि अधिकता, जंक फूड का सेवन एवं डाइ़़ट के गड़बड़ाने के कारण होती हैं।

 

इसके आलवा पथरी बार-बार मूत्रमार्ग में संक्रमण होना, मूत्रमार्ग में अवरोध, विटामिन C या कैल्शियम वाली दवाओं का अधिक सेवन, लम्बे समय तक शैयाग्रस्त रहना, हाइपर पैराथायराइडिज्म की तकलीफ होना इन सभी कारणों कि वजह से पथरी जैसी समस्या हमारे शरीर मे उतपन्न होती हैं। पथरी कि समस्या में हमे निम्न उपाय करने चाहिए.........

 

1 12 से 14 गिलास से अधिक मात्रा में पानी और तरल पदार्थ प्रतिदिन लेना चाहिए। 

 

2 करेले में पोटेशियम अच्छी मात्रा में पाया जाता है, इसलिए पथरी की समस्या में करेला भी एक मददगार सब्जी है। यह लिवर और ब्लेडर को भी ठीक रखता है।

 

3 नारियल का पानी किडनी की बेहतरी और पथरी के लिए बहुत अच्छा है।

 

4 अनार के जूस और अनार के दानों मे Astringent Properties होती है जो कि kidney Stone Treatment में मदद करती हैं। 

 

5 केले में विटामिन B-6 के साथ-साथ पोटेशियम,  फाइबर, मैग्नीशियम व कम नमक होता हैं जो पथरी मे काफी मददगार होता हैं। केला हमें किडनी के कैंसर से भी बचने में  सहायक हैं। 

 

6 तरबूज शरीर में जाकर पेशाब के निर्माण को बढ़ा देता है। इसी के साथ इसमें पोटेशियम भी होता है, जो किडनी स्टोन को घुलने में मदद करता है।

 

7 तुलसी की चाय किडनी स्वास्थ्य के लिए बहुत ही सफल प्राकृतिक उपचार है. यह किडनी में स्‍टोन के उपचार के लिए एक आदर्श समाधान है. शुद्ध तुलसी का रस लेने से पथरी को यूरीन के रास्‍ते निकलने में मदद मिलती है. कम से कम एक म‍हीना तुलसी के पतों के रस के साथ शहद लेने से आप प्रभाव महसूस कर सकते है. साथ ही आप तुलसी के कुछ ताजे पत्तों को रोजाना चबा भी सकते हैं.

 

8 कैल्शियम वाली चीजो का अधिक सेवन ना करें । 

 

9 बीज वाली सब्जियां खाने से परहेज करें जैसे : टमाटर।

 

10 नींबू में उच्च मात्रा में citric acid होता है, जिसके बारे में माना जाता है कि वह कैल्शियम आधारित किडनी की पथरी को तोड़ने में प्रभावी होता है।