Live Tv

Thursday ,17 Jan 2019

एक बार फिर विवादों में हाइड्रो पावर कॉरपोरेशन

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Mar 12-2018 03:41:27pm

बागेश्वर : उत्तर भारत हाईड्रो पाॅवर काॅरपोरेशन एक बार फिर विवादों से घिर गया है। पूर्व में उत्तर भारत द्वारा योजना के चलने से युवाओ को रोजगार से जोडने के वादे के विफल होने से विवादो में चल रहा था।

 

हाइड्रो कम्पनी का विवादों से पुराना नाता है। भराडी व्यापार मंडल अध्यक्ष के नेततव मे व्यापारियों ने उत्तर भारत हाइड्रो कंपनी द्वारा सरयू नदी में किये जा रहे। अवैध निर्माण कार्य को रोकने साथ ही उत्तर भारत हाइड्रो परिसर में ग्रामीणों ने जमकर नारेबाज़ी विरोध प्रदर्शन किया गया। 

 

ये पढ़े : कोचिंग सेंटर में पुलिस की छापेमारी, संस्थानों में मची खलबली

 

वही व्यापारीयो का आरोप है। कि उत्तर भारत हाईडोपाॅवर ने अपनी पेज - 3 की परियोजना को चलाने हेतु 3 नाली भूमि ली गयी थी। लेकिन कम्पनी द्वारा अभी तक 15 नाली भूमि पर अवैध कब्जा कर लिया गया है। प्रशासन से कई बार शिकायत करने पर भी कोई निदान नही हो पाया है। जिस तरीके से उत्तर भारत कम्पनी द्वारा नदी पर अवैध निर्माण कब्जा किया जा रहा है। भराडी बाजार की और कोई सुरक्षा दिवार नही लगायी जा रही है।

 

सुरक्षा दिवार न लगाने से बाजार के व्यापारीयो को खतरा बना हुआ है। वही ग्रामीणों  ने उत्तर भारत कम्पनी पर गम्भीर आरोप लगाते हुये कहा कि कानून केवल गरीबो तक सीमित रह गये है। यहां उत्तर भारत द्वारा सरयू नदी के बीच में धडल्लें से अतिक्रमण किया जा रहा है। कोई देखने सुनने वाला नहीं उस पर तहसील प्रशासन भी मौन बना हुआ है। हमारे हक हकूब सब नष्ट किये जा रहे है। इस अतिक्रमण के चलते भराडी बाजार को बड़ा ख़तरा बना हुआ है। 

 

वहीं इस मामले जिलाधिकारी का कहना है। कि मामले की जांच एसडीएम से करायी जायेगाी। यदि कम्पनी के खिलाफ यदि कोई खामिया पायी जाती है। तो कंपनी के ख़िलाफ़ कड़ी कार्यवाही की जायेगाी। साथ ही अवैध निर्माण को गिराया जाएगा साथ ही नदियों में किसी प्रकार का अवैध निर्माण नहीं होने दिया जाएगा। 

                                                                        बागेश्वर से जगदीश पाण्डेय