×
Knews App Now Available for Mobile

FREE for Android and iOS.

  LIVE TV

Monday, 19 November 2018

सैलरी पाने वाले अपराधी और गैंग का भंडाफोड़

Reported by KNEWS | Updated: Mar 13-2018 02:48:37pm


नोएडा : जिस तरह पढ़ा लिखा आदमी अपनी कंपनी बनाता है ये फिर किसी कंपनी मे नौकरी करता है। उसी तरह अब अपराधी भी अपनी कंपनी बनाता है और लोगो को सैलरी पर रखता है और फिर अपराध करना शुरु करता है। ये सुन कर आपको अटपटा सा लग रहा होगा। 

 

लेकिन ये सच है। इसका खुलासा किया है नोएडा की सेक्टर-58 पुलिस ने। पुलिस ने एक ऐसे गिरोह को गिरफ्तार किया है जिसका सरगना बाकाएदा दो लोगो को सैलरी पर रखे हुए था अपराध करने के लिए।

 

ये पढ़े : पुलिस मुठभेड़ में पच्चीस हज़ार का इनामी बदमाश घायल

 

ये लोग अपराध नही करते बल्की अपराध की नौकरी करते है। इस मामले में बंटी नाम के एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। बंटी ने एटा के रहने वाले शैलेश और चिंटु को 20 हजार रुपए प्रतिमाह वेतन पर नौकरी दी अपराध करने की और एटा से ही 3 तमंचे मंगाए। शैलेश और चिंटु ने सेक्टर-57 के पास एक कार लुटने की योजना बनाई और रैकी कर रहे थे।

 

लेकिन वहा से पेट्रोलिंग कर रही पीसीआर को इनपर शक हो गया। पुलिस ने इनको पकड़ने की कोशिश की तो इन लोगो ने पुलिस पर भी तमंचा तान दिया। इस मुठभेड़ में पुलिस के एक दरोगा भी घायल हो गए लेकिन पुलिस ने इन लोगो को गिरफ्तार कर लिया।पुछताछ पर इन लोगो ने बताया की आज वो पहली घटना करने जा रहे थे।

 

बंटी का खोङा मे मकान है। शैलेश और चिंटु बंटी के किराएदार है और छोटी मोटी नौकरी करते थे, लेकिन बंटी ने ज्यादा पैसे कमाने की इन लोगो को लालच दी और अपने पास नौकरी पर रख लिया और 20 हजार रुपए महिना देने का वादा किया। जिस तरह वक्त बदल रहा है उसी तरह अपराधी भी बदल रहे है जिसका जीता जागता सबुत है ये गैंग है।

 

फिलहाल,पुलिस ने इनके पास से 3 तमंचे और एक बाईक बरामद की है। ये लोग पहली बार अपराध करने की बात कबुल रहे है फिर भी पुलिस इनका आपराधिक इतिहास खंगाल रही है।

 

                                                                           नोएडा से अजय ठाकुर


पर हमसे जुड़े

मुख्य ख़बरे