Live Tv

Saturday ,15 Dec 2018

मशहूर भौतिकविद स्टीफन हॉकिंग का निधन

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Mar 14-2018 01:25:40pm

नई दिल्ली : बिग बैंग थ्योरी और ब्लैक होल को समझाने वाले स्टीफन हॉकिंग ने बुधवार को आखिरी सांस ली। 21 साल की उम्र में एक भयानक एम्योट्रोफिक लेटरल स्कलोरेसिस (एएलएस) बीमारी से उन्हे लकवा हो गया। जिसमें न वो बोल सकते थे यहां तक की उन्हे सांस लेने में भी बहुत तकलीफ होती थी। जिसके बाद 76 साल की उम्र में इन्होने दुनिया को अलविदा कर दिया।

 

50 साल से ज्यादा साल तक जीने वाले विश्वासों से ओझपूर्ण हॉकिंग ने अपने जीवन में कई सफलताएं हासिल की और जीवन में कई मूल मंत्र भी दिया। इनकी पढ़ाई ऑक्सफर्ड विश्वविद्यालय से हुई। यहां तक की अमरीका का सबसे उच्च नागरिक सम्मान प्राप्त हुये।

 

ये पढ़े : सुप्रीम कोर्ट का फैसला : आधार लिंकिंग की आखिरी डेट हुई एक्सटेंड

 

स्टीफन एक ऐसे वैज्ञानिक थे जो दुनिया को अलग नजरिए से देखते थे। यहां तक की इनके साइंटिस्ट बनने में इनकी बिमारी का खास रोल रहा। जब उन्हे पता चला कि उनकी जिंदगी के ज्यादा दिन नहीं बचे है तब उन्होने अपनी पढ़ाई पर और ध्यान देने लगे। हॉकिंग की व्हील चेयर के साथ एक विशेष कंम्प्यूटर और एक स्पीच सिथेसाइज़र लगा है जिनकी मदद से ही बात कर सकते थे।

 

2014 में द थ्योरी ऑफ एव्री थिंग नाम से एक फिल्म भी बनाई। वहीं मूवी में हॉकिंग का किरदार निभाने वाली एडी रेडमेने को इसके साल बेस्ट एक्टर का ऑस्कर अवॉर्ड भी मिला। याद हो कि स्टीफन वहीं है जिन्होने कहा था कि आप कभी बच्चो कि तरह सवाल पूछना न छोड़े, इसके साथ इंसान को कभी मौत से नहीं डरना चाहिए और न ही गुस्सा करना चाहिए क्योंकि गुस्सा मानवता का सबसे बड़ा दुश्मन है। स्टीफन ने जिंदगी कई सफलताएं पाई। ब्रह्मांण को समझाने वाले भी और कोई नहीं स्टीफन हॉकिंग थे।

                                                                                      नई दिल्ली से ज्योति सिंह