Live Tv

Thursday ,13 Dec 2018

चक्रपाणि और प्रमोद कृष्णम फर्जी बाबा : अखाड़ा परिषद

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Mar 16-2018 04:29:27pm

इलाहाबाद : अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने बड़ा ऐलान करते हुए दो बाबाओं को फर्जी घोषित किया है। बता दें कि इससे पहले भी फर्जी बाबाओं की लिस्ट जारी की गई थी।अब अखाड़ा परिषद ने तीसरी लिस्ट जारी करते हुए चक्रपाणि महाराज और आचार्य प्रमोद कृष्णम को फर्जी लिस्ट में डाल दिया है। 

 

परिषद का कहना है कि दोनों बाबा किसी सन्यासी परम्परा से नहीं आते। बता दें कि आचार्य प्रमोद कृष्णम संभल के पीठाधीश्वर हैं। प्रमोद कृष्णम 2014 में कांग्रेस के टिकट पर संभल से चुनाव भी लड़ चुके हैं।  वहीं 2019 के कुंभ में अखाड़ा परिषद ने शाही स्नान के बहिष्कार का फैसला लिया है। दरसल अखाड़ा परिषद राज्य सरकार के रवैये से खफा है। स्थायी निर्माण शुरू न किए जाने से नाराज हैं।

 

ये पढे़ : हिन्दू नव वर्ष महोत्सव में चौथा दिन रहा योग के नाम

 

बता दे कि मांगे न माने जाने से सभी 13 अखाड़े सरकार से नाराजा हैं। इसके साथ ही कुम्भ मेले में कोई सरकारी सुविधा भी नही लेंगे। आपको बता दें इससे पहले फर्जी बाबाओं की दूसरी सूची में हाल में ही सुर्खियों में आए दिल्ली के वीरेंद्र देव दीक्षित, बस्ती के सच्चिदानंद सरस्वती और इलाहाबाद की महिला संत और परी अखाड़े की स्वयंभू महामंडलेश्वर त्रिकाल भवंता के नाम शामिल थे। इसके साथ ही राजस्थान अलवर के फलाहारी बाबा को भी अखाड़ा परिषद ने निलम्बित किया था।

 

वहीं पिछले साल सितम्बर में भी अखाड़ा परिषद ने फर्जी बाबाओं की पहली सूची जारी की थी। इस लिस्ट में 14 फर्जी बाबाओं के नाम शामिल थे। परिषद ने संत आसाराम, राधे मां, सच्चिदानंद गिरी, गुरमीत राम रहीम, निर्मल बाबा, इच्छाधारी भीमानंद, असीमानंद और नारायण साईं, के नामों को फर्जी बाबाओं की लिस्ट में शामिल किया था।

                                                                                 इलाहाबाद से सैयद अब्बास