Live Tv

Sunday ,16 Dec 2018

37 अफसरों के अचानक तबादले से ब्यूरोक्रेसी में हड़कंप

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Mar 17-2018 12:02:45pm

लखनऊ : उत्तर प्रदेश उपचुनाव में भाजपा की हार के बाद सरकार बौखला गई है। जिसके बाद सरकार ने प्रदेश में बड़ा प्रशासनिक फेरबदल करते हुए 16 डीएम, चार कमिश्नर और 37 आईएएस अफसरों को इधर से उधर कर दिया है।

 

ये पढ़े : विद्यालय में अध्यापक से लेकर अधिकारी तक उड़ा रहे दावत

 

ट्रांसफर लिस्ट

 

गोरखपुर के डीएम राजीव रौतेला, बलिया, आजमगढ़, बरेली, महाराजगंज, चंदौली, बलरामपुर, महाराजगंज, पीलीभीत, अलीगढ़, भदोही, अमरोहा, सीतापुर, सोनभद्र, हाथरस और हापुड़ शामिल हैं। जानकारों का मानना है कि आने वाले समय में और तबादले होंगे। यानी योगी सरकार काम में किसी प्रकार की भी कोताही बरतने वालों को बख्शेगी नहीं। गोरखुपर के डीएम अब वीपाटन मंडल के कमिश्नर बने हैं। सरकार ने इसी के साथ बरेली के डीएम राघवेंद्र विक्रम सिंह को हटाया। है। उन्हें एपीसी शाखा में विशेष सचिव बनाया गया है। सिंह पर यह कार्रवाई सोशल मीडिया पर विवादित टिप्पणी करने को लेकर हुई।

 

रौतेला की जगह अब कानपुर विकास प्राधिकरण (केडीए) उपाध्यक्ष के.विजयेंद्र पाडिंयन लेंगे। चंद्रभूषण सिंह अलीगढ़ के डीएम, शिवाकांत द्विवेदी आजमगढ़ डीएम, विशाख जी. चित्रकूट के डीएम, राजेंद्र प्रसाद भदोही के डीएम, कृष्णा करुणेश बलरामपुर के डीएम, प्रमोद कुमार उपाध्याय हापुड़ के डीएम, नवनीत सिंह चहल चंदौली के डीएम, अमित कुमार सिंह सोनभद्र के डीएम, डॉ.रमा शंकर मौर्य हाथरस के डीएम, भवानी सिंह खगारौत बलिया के डीएम, शीतल वर्मा सीतापुर की डीएम, अखिलेश कुमार मिश्र पीलीभीत के डीएम होंगे।

 

केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से लौटे राजीव कपूर को अध्यक्ष पिकप, अपर प्रमुख सचिव औद्योगिक विकास एवं अवस्थापना आलोक सिन्हा को वाणिज्य कर एवं मनोरंजन कर बनाया गया है। अनूप चंद्र पाण्डेय को वर्तमान पद संग अपर प्रमुख सचिव औद्योगिक विकास एवं अवस्थापना का कार्यभार सौंपा गया है। अपर मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी को वाणिज्य कर एवं मनोरंजन कर से हटाते हुए उनके वर्तमान पद श्रम एवं सेवायोजन पद पर बनाए रखा गया है।

                                                                                                 लखनऊ से अनूप त्रिपाठी