×
Knews App Now Available for Mobile

FREE for Android and iOS.

  LIVE TV

Sunday, 21 October 2018

धरना प्रदर्शन के बाद माफी मांगने वाले नेता बने केजरीवाल

Reported by KNEWS | Updated: Mar 19-2018 05:29:57pm


नई दिल्ली : राजनीति में नेता कब क्या कह जाएं या अपने फायदे के लिए क्या कर जाए इस का अंदाजा लगा पाना बहुत मुश्किल है। हर मुद्दे पर धरना प्रदर्शन करने के लिए जाने जानेवाले नेता दिल्ली के मुखिया केजरीवाल माफी मांगने वाले नेता बन गए है।

 

ऐसा इसलिए कहा जा रहा है, कि पिछले कुछ समय से केजरीवाल उन सभी नेताओं से माफी मांगते फिर रहें हैं जिन पर कभी कोई आरोप लगाया था। ताजा उदाहरण उनका वह लेटर जिस में केजरीवाल ने कांग्रेस के नेता कपिल सिब्बल के बेटे और केन्द्र में मोदी सरकार के कैबिनेट मंत्री नितिन गडकरी से पत्र लिख कर माफी मांगी है।

 

ये पढ़े : बदमाशों ने लूट के इरादे से की दुकानदार की गाड़ी पर फायरिंग

 

दरअसल आम आदमी पार्टी के मुखिया केजरीवाल सत्ता में आने के लिए जो हिट एण्ड रन की पॉलिसी को अपनाया था। वह अब केजरीवाल पर भारी पड़ने लगा है। जिस तरह से दिल्ली के मुख्यमंत्री ने विपक्षी पार्टियों के नेताओ पर बिना सिर-पांव के आरोपो की झड़ी लगा दी थी। उसके बाद उन पर उन नेताओ ने मानहानि का मुकदमा दायर किया जिस के बाद से केजरीवाल पर कानूनी शिकंजा कसने लगा। बहरहाल केजरीवाल को समझ आने लगा कि राजनीति मे किसी पर बिना सिर-पांव के आरोप लगाने का क्या मतलब होता है।

 

कभी धरना और प्रदर्शन के लिए मशहूर केजरीवाल अब सभी नेताओ से माफी मागंते घूम रहें हैं या कहें कि माफी मागंने वाले नेता बन गए है। जिस का परिणाम ये हुआ है कि केजरीवाल को इसका ख़ामियाजा उनकी छवि धूमिल होने के साथ-साथ उनको अपनी पार्टी नेताओं का विरोध को भी झेलना पड़ रहा है। यहां तक की उनकी पार्टी के पंजाब ईकाई मे दो फाड़ होने की नौबत आ गई है।

                                                                                            नई दिल्ली से अंशु रंजन

 


पर हमसे जुड़े

मुख्य ख़बरे