Live Tv

Saturday ,15 Dec 2018

भयानक बीमारियों की वजह बन रहा दूषित पानी

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Mar 19-2018 05:57:30pm

सितारगंज : सितारगंज में सिडकुल की स्थापना के बाद यहाँ लगी फैक्ट्रियों से निकलने वाले कैमिकल युक्त दूषित पानी और फैक्टरियों से निकलने वाली काली राख से आस पास बसे कई गांवों में रहने वाले ग्रामीणों का जीना दूभर हो चुका है।

 

सिडकुल के पास बसे उकरौली सिद्ध गर्वीयल ,बारह राणा सहित कई गांवों में फैक्टरियों से निकने वाले दूषित पानी और राख की वजह से कई भयानक बीमारियां फैल रही है कई ग्रामीणों की तो आंखों की रौशनी तक जा चुकी है और अब तो आलम यह है कि ग्रामीणों के घरों में लगे हैण्ड पम्पों से भी गंदा दूषित पानी निकालने लगा है और लोग इसे पीने को विवश है।

 

ये पढ़े : आल वेदर रोड का सर्वदलीय बैठक में विरोध

 

लगातरा पानी पीकर स्थानीय लोग बिमार हो रहे है। लेकिन इस बहने वाले जहर पर कार्रवाई करने वाला कोई नहीं है। कई ग्रामीणों के जानवर इस दूषित पानी को पीने से मर भी चुके है और यह सिलसिला लगातार जारी है। ग्रामीणों द्वारा शासन प्रशासन से इन फैक्टरियों द्वारा नदी नालों में छोड़े जा रहे दूषित पानी से फैलने वाली बीमारियों की वजह से होने वाली दुर्घटनाओं से अवगत करा इन फैक्ट्रियों के खिलाफ कार्यवाही करने के लिए वार्ता भी की गई ,धरने प्रदर्शन तक किये गए। लेकिन कोई समाधान आज तक नही हो पाया। अधिकारी कुछ भी बोलने को तैयार नही है।

 

जनता मरने को विवश है। फैक्ट्रियों द्वारा गंदा पानी लगातार छोड़ा जा रहा है। वही यहाँ सिडकुल के पास बसे सिद्ध गर्वीयल में लगभग 200 परिवार पिथौरागढ़ से विस्थापित होकर बसे है और स्थिति अब यह हो गई है कि वह दोबारा यहां पर दूषित पानी और फैक्ट्रियों की काली राख की वजह से यहां से पलायन करने को विवश है। उनका कहना है कि कई बार दूषित पानी की वजह से फैल रही बीमारियों से शासन प्रशासन को अवगत करा चुके है।

 

पानी की कई बार जांचें भी हो चुकी है और जांचों में भी स्पस्ट हो चुका है।कि यह पानी दूषित है लेकिन फिर भी कई कार्यवाही फैक्ट्री प्रबन्धकों पर नही की जाती दुबारा फिर जांच होने वाली है और सिर्फ जांचें ही होती रहेंगी या इन पर कोई कार्यवाही होगी यह तो अब वक्त ही बताएगा ।की यहां बसे आसपास के गांवों को बचाने के लिए क्या कार्यवाही होती है।

                                                                    सितारगंज से जगपाल सिंह