Live Tv

Monday ,10 Dec 2018

गंगा किनारे रामदेव शिष्यों को देंगे दीक्षा

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Mar 24-2018 04:20:33pm

हरिद्वार : योग गुरू बाबा रामदेव ने ऋषि परंपरा के तहत अपने 88 शिष्य और शिष्याएं तैयार कर दिये हैं। हरिद्वार में वीआईपी घाट पर गंगा किनारे इन ब्राहृचारी और ब्राहृचारिणियों को योग गुरू बाबा रामदेव पूरे रीति रिवाज से सन्यास दीक्षा देंगे।

 

इस मौके पर इन ब्राहृचारी और ब्राहृचारिणियों के परिजनों समेत बडी संख्या में साधू संत भी मौजूद रहेंगे। हरिद्वार के पतंजलि ऋषिग्राम में पिछले चार दिनों से देश के कोने कोने से आए इन शिष्य और शिष्याओं को स्वंय बाबा रामदेव तैयार कर रहे हैं।

 

ये पढ़े : उत्तराखंड क्राइम -24 मार्च 2018

 

योग और प्राणायाम को हिमालय की गुफाओं से निकाल कर विश्व भर में पहुंचाने वाले योग गुरू बाबा रामदेव एक और मील का पत्थर स्थापित करने जा रहे हैं। ऋषि परंपरा के तहत योग गुरू बाबा रामदेव अपने 1000 शिष्य और शिष्याएं तैयार कर रहे हैं। माना जा रहा है कि योग गुरू बाबा रामदेव का उत्तराधिकारी भी इन्हीं के बीच से होगा। इसके तहत इस बार रामनवमी को योग गुरू बाबा रामदेव हरिद्वार में वीआईपी घाट पर वैदिक मंत्रोच्चारों के बीच अपने 88 शिष्यों को दीक्षित करेंगे। 

 

जिसके लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। पिछले चार दिनों से हरिद्वार के पतंजलि ऋषिग्राम में स्वयं योग गुरू बाबा रामदेव दिन रात एक कर देश के कोने कोने से आए अपने शिष्यों को तैयार करने में जुटे हुए हैं। योग गुरू बाबा रामदेव ने इन ब्राहृचारी और ब्राहृचारिणियों को ना केवल वेद-पुराण और शास्त्र की दीक्षा दी है बल्कि शस्त्रों में भी इन्हें परांगत किया हैं।

 

ये ब्राहृचारी और ब्राहृचारिणी योग गुरू बाबा रामदेव के मिशन को विश्व भर में फैलाएंगे। पिछले चार दिनों की मेहनत के बाद ये ब्राहृाचारी तैयार हो चुके हैं और रामनवमी को इन्हें सन्यासी परंपरा के तहत दीक्षित कर योग गुरू बाबा रामदेव इन्हें राष्ट्र को समर्पित करेंगे।

                                                                              हरिद्वार से पुलकित शुक्ला