Live Tv

Sunday ,16 Dec 2018

एक औरत ने चार बच्चों को एक साथ दिया जन्म

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Mar 24-2018 04:33:30pm

 

रुड़की : रुड़की के देव नर्सिंग होम में सोनी नाम की एक गर्भवती महिला ने एक साथ चार बच्चों को जन्म दिया है। हैरान करने वाली  बात यह है की सोनी और उसके चारो बच्चे पूरी तरह से स्वस्थ है सोनी के चार बच्चो में दो बेटे और दो बेटियां है चार बच्चो को एक साथ जन्म देने वाला।

 

इस तरह का मामला करीब पांच करोड़ महिलाओं में से एक किसी एक  में देखने को मिलता है रुड़की  क्षेत्र मे इस तरह का यह पहला माामला है। चार स्वस्थ बच्चो को एक साथ जन्म देने से सोनी और उसके परिवार में ख़ुशी की लहर है वही डॉ वारिजा सहित अस्पताल के सभी कर्मचारी इसे अपने अस्पताल की बड़ी उपलब्धि मान रहे है !

 

ये पढ़े : गंगा किनारे रामदेव शिष्यों को देंगे दीक्षा

 

सोनी और उसके पति मुकेश को 13  हफ्ते के गर्भ के बाद अल्ट्रासाउंड कराने के बाद ही गर्भाशय में चार बच्चे होने की बात पता चल गई थी जिससे वो दोनों काफी घबरा गए थे और रिश्तेदार उन्हें गर्भपात कराने की सलाह दे रहे थे जिसके बाद वो कई बड़े अस्पतालों के डॉ से सलाह लेने के लिए गए मगर हर जगह से उन्हें गर्भपात कराने की ही सलाह दी गई।

 

तभी उन्हें किसी ने रूडकी स्थित देव नर्सिंग होम की वरिष्ठ डाक्टर वारिजा सिंह के बारे में बताया और वो डॉ वारिजा से मिलने पहुंचे डॉ वारिजा ने भी अपने करियर में कभी एक साथ चार बच्चो का मामला नहीं देखा था लेकिन इस मामले को चुनोती के रूप में लेते हुए डॉ वारिजा ने सोनी का उपचार शुरू किया और करीब 6 महीने के उपचार के बाद चार बच्चो की एक साथ सफलतापूर्वक जन्म दिलाया !

 

डॉ वारिजा का कहना है कि जब सोनी अपने पति के साथ उनके पास आई थी तो चार बच्चो की बात से काफी घबराई हुई थी उसको सभी लोग गर्भपात कराने की सलाह दे रहे थे तब मैने उसका हौसला बढ़ाया और क्योंकि यह उसकी पहली डिलीवरी थी इसीलिए मैंने उसे गर्भपात नहीं कराने की बात कही जिसके बार सोनी और उसके पति मान गए और चारो बच्चो की डिलीवरी कराने के लिए तैयार हो गए।

 

जिसके बाद हमारा भी हौसला बढ़ गया और हमने डिलीवरी की तैयारी शुरू कर दी एक साथ चार बच्चो की नार्मल डिलवरी कराना बहुत मुश्किल था इसीलिए हमने ऑपरेशन के जरिये डिलवरी की है जिससे चारो बच्चे और उनकी माँ पूरी तरह से स्वस्थ है।

                                                                       रुड़की से विशाल यादव