Live Tv

Tuesday ,19 Feb 2019

वेंटिलेटर पर स्वास्थ्य सुविधाएं : कांग्रेस

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Apr 02-2018 04:08:24pm

देहरादून : उत्तराखंड में स्वास्थ्य सेवाओं को पटरी पर लाने की लगातार कवायद की जा रही है। ऐसे में सरकार के सामने कई दिक्कतें भी आ रही है। यूं कहे कि सरकार की कवायद को कई बार झटका भी लग रहा है।

 

इस कड़ी में प्रदेश के शहरी क्षेत्रों में पीपीपी मोड पर संचालित 39 शहरी प्राथमिक स्वास्थ केंद्र बंद हो गए हैं। केंद्र की ओर से इनकी समय-सीमा को नहीं बढ़ाया गया है।

 

ये पढ़े : सीएम रावत ने स्टार्टअप यात्रा का शुभारंभ किया

 

अब प्रदेश सरकार ने केंद्र से इन्हें अपने स्तर पर चलाने की स्वीकृति मांगी है। इस मसले पर कांग्रेस ने केन्द्र और प्रदेश सरकार को आड़े हाथ लिया है। आपको बता दें कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत शहरी क्षेत्रों में 39 पीएचसी पीपीपी मोड पर चल रहे हैं।

 

यह स्वास्थ्य केंद्र देहरादून, हरिद्वार, हल्द्वानी, रामनगर, जसपुर और रुड़की में हैं। इनके जरिए शहरी मलिन बस्तियों में रहने वाली आबादी को प्राथमिक स्वास्थ्य सेवाओं के साथ ही मातृ-शिशु से जुड़ी स्वास्थ्य सेवाएं दी जा रही है।

                                                                        देहरादून से अजय पाण्डे