Live Tv

Sunday ,16 Dec 2018

शिक्षा के अधिकार पर सीधा वार

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Apr 03-2018 06:11:35pm

देहरादून : राज्य सरकार ने जबसे एनसीईआरटी की बुक्स को सभी निजी स्कूलों के लिये अनिवार्य किया है। तबसे सरकार और प्राईवेट स्कूलों के बीच 36 का आंकडा देखने को मिल रहा है पर सरकार और निजी स्कूलों की इस लड़ाई में अगर कोई सबसे ज़्यादा पिस रहा है तो वो है ग़रीब तबक़े के बच्चे।

 

ताज़ा मामला राजधानी देहरादून के एक निजी स्कूल का है। जहां स्कूल प्रबंधन ने बच्चों को मिल रहे शिक्षा के अधिकार पर ही वार कर दिया। बता दें कि शिक्षा के अधिकार के तहत शिक्षा हासिल कर रहे 20 बच्चों को स्कूल ने बाहर का रास्ता दिखा दिया वो भी बिना नोटिस दिए।

 

ये पढ़े : NCERT लागू करने पर हाईकोर्ट में याचिका

 

गौरतलब है कि स्कूल प्रबंधन ने ना सिर्फ बच्चों के अभिभावकों से बदसलूकी की बल्कि कुछ मीडिया कर्मियों को भी भला बुरा कहा। साथ ही स्कूल प्रशासन ने इस मामले पर कुछ भी बोलने से मना किया। ऐसे में कहा जा सकता है।

 

जहां सरकार बच्चों को एक तरफ़ सस्ती और अच्छी शिक्षा देने के कड़े फैसले और नीतियां बना रही है। वहीं टेंडर फीट जैसे निजी स्कूल सरकार को ठेंगा दिखाते नज़र आ रहे हैं।
                                                                               देहरादून से विनय सूद