×
Knews App Now Available for Mobile

FREE for Android and iOS.

  LIVE TV

Wednesday, 15 August 2018

एयर इंडिया की कीमत में इजाफा

Reported by KNEWS | Updated: Apr 13-2018 10:45:04am


नई दिल्ली : एयर इंडिया ने 2017-2018 के बीच राजस्व में 11% वृद्धि के साथ पैसेंजर लोड फैक्टर दर्ज की है। जिसके बाद एयर इंडिया के बेचने की सरकार की डील में सुधार हो सकता है, और कंपनियों की खरीदने की क्षमता घट सकती है।

 

एयर इंडिया के चेयरमैन व मैनेजिंग डायरेक्टर प्रदीप सिंह खरोला ने एक बयान में  कहा कि निष्पादन के मोर्चे पर एयर इंडिया लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रही है। इससे पहले 2016-17 में बेहतर परिणाम दर्शाते हुए 2015-16 के 20,610.33 करोड़ के मुकाबले 22,277.68 करोड़ का कुल राजस्व दर्ज हुआ था।

 

सरकार ने एयर इंडिया में विनिवेश करना शुरू कर दिया है, और अब एक अच्छे खरीददार का इंतजार कर रही है, लेकिन अभी तक कोई बड़ा खरीददार मिला नही है। शुरू में इंडिगो और टाटा-सिया जैसी न एयरलाइन कंपनियों ने रूचि दिखाई थी, वह भी अब पीछे हटती दिखाई दे रही है। ये

 

पढ़े : एयरटेल का शानदार ऑफर

 

अब सरकार की उम्मीद  ब्रिटिश एयरवेज और लुफ्थांसा जैसी नई एयरलाइनों पर टिक हुई है। इन दिनों एयर इंडिया कर्ज की समस्या से परेशान है, और कर्मचारियों को भी इस समस्या का सामना करना पड़ रहा है। कर्मचारियों का कहना है, कि उन्हें मार्च महीने का वेतन अभी तक नही मिला है।

 

इस देरी के बारे में उन्हें पहले से कोई जानकारी भी नही दी गई है। आमतौर पर वेतन हर महीने की 30 और 31 तारीख को मिल जाता है। बैंकों की छुट्टी पर वेतन पहले ही दे दिया जाता है, लेकिन इस बार अभी तक एयर इंडिया के कर्मचारियों मार्च महीने का वेतन नही मिला है।

 

 

जिसकी वजह से हमारे सारे निजी काम रूके हुए है। सरकार ने भी एयर इंडिया से विनिवेश करने का फैसला कर लिया है। सरकार ने एयरलाइन में 76% तक हिस्सेदारी बेचने का प्रस्ताव किया है।

 

एयर इंडिया के प्रवक्ता ने कहा, कि मार्च का वेतन जल्द ही कर्मचारियों के खातों में आ जायेगा। साथ ही प्रबंधन नियंत्रण भी किसी प्राइवेट कंपनी को देने का प्रस्ताव है। 

 

                                                                                      नई दिल्ली से पूजा शर्मा


पर हमसे जुड़े