×
Knews App Now Available for Mobile

FREE for Android and iOS.

  LIVE TV

Monday, 22 October 2018

बीजेपी का 38वां स्थापना दिवस, विपक्ष को ‘चाणक्य’ की चेतावनी

Reported by KNEWS | Updated: Apr 06-2018 04:06:07pm


नई दिल्ली : देश की सबसे मजबूत पार्टी और केंद्र के अलावा देश के कई राज्यों में सत्ता पर काबिज भारतीय जनता पार्टी अपना 39वां स्थापना दिवस मना रही है, बीजेपी अपने इस स्थापना दिवस का जश्न जोर-शोर से मना रही है, पार्टी का हर कार्यकर्ता इस जश्न में डूबा हुआ है, पार्टी के चाणक्य माने जाने वाले अमित शाह ने भी मुंबई में एक बड़ी रैली को संबोधित किया।

 

इस दौरान शाह ने कहा कि भारत के लोकतंत्र के इतिहास में बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने सबसे ज्यादा बलिदान दिया है, शाह ने अपने भाषण में कार्यकर्ताओं को पार्टी का असली मालिक बताया, शाह ने आगे कहा कि 37 साल पहले अटल जी ने मुंबई में बीजेपी की स्थापना की थी, तब उन्होंने कहा था कि अंधेरा छटेगा, सूरज निकलेगा और कमल खिलेगा, आज पूरे देश में कमल खिला हुआ है ।

 

ये पढ़े : लालू के बेटे का ब्याह

 

शाह के निशाने पर विपक्ष

 

अमित शाह इस दौरान विपक्ष पर भी जमकर बरसे और कहा कि मोदी की बाढ़ के डर से सांप-नेवला-कुत्ता एक साथ होकर चुनाव लड़ रहे हैं, आज मोदी जी के नेतृत्व में बीजेपी की सरकार 20 से अधिक राज्यों में है, 2019 में एक बार फिर बीजेपी बहुमत के साथ सरकार बनाएगी, शाह ने कहा कि हमारी पार्टी 10 सदस्यों से शुरू हुई थी, आज 11 करोड़ सदस्य हैं, पहले हमारे 2 लोकसभा सदस्य थे लेकिन अकेले दम पर बहुमत की सरकार चला रहे हैं, शाह ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि अभी भी राहुल जी, शरद पवार के साथ बैठते हैं, राहुल मोदी सरकार से साढ़े चार साल का हिसाब मांगते हैं लेकिन खुद की चार पीढ़ियों का हिसाब नहीं देते हैं । 

 

आप को बता दे कि मुंबई में आयोजित इस रैली में बीजेपी के दिग्गज नेताओं ने शिरकत की, कार्यक्रम की शुरुआत में बीजेपी के बड़े नेताओं के भाषण की वीडियो सुनाई गई, इसमें अटल बिहारी वाजपेयी, लालकृष्ण आडवाणी, प्रमोद महाजन, गोपीनाथ मुंडे समेत कई नेताओं के भाषण सुनाए गए, इस रैली को बीजेपी की तरफ से मिशन 2019 का बिगुल फूंकना भी बताया जा रहा है ।

 

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर सभी बीजेपी कार्यकर्ताओं को बधाई दी, पीएम मोदी ने इस दौरान एक वीडियो भी ट्वीट किया।

 

 

 

भारतीय जनता पार्टी का ये 37 सालों का सफर आसान नहीं था, देश की सबसे बूढ़ी पार्टी कांग्रेस के सामने खुद को स्थापित करना और जनता के दिल में जगह बनाना बीजेपी के लिए किसी चुनौती से कम नहीं था लेकिन बीजेपी ने धीरे धीरे अपने लक्ष्य को हासिल किया और आज देश के कई राज्यों में कमल ने पंजे को शिकस्त देकर खुद को स्थापित कर दिया है ।  

 

कब हुई स्थापना ?

 

आपातकाल के दौरान भारतीय जनसंघ और दूसरे राजनीतिक दलों ने महागठबंधन किया और जनता पार्टी का जन्म हुआ था, जनता पार्टी ने तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की नीतियों के खिलाफ चुनाव लड़ा और पार्टी को बड़ी जीत मिली थी, लेकिन जनता पार्टी में आंतरिक कलह पैदा हो गई और जनता पार्टी की सरकार अपना कार्यकाल भी पूरा नहीं कर सकी, इसके बाद जनसंघ जनता पार्टी से अलग हो गई, 6 अप्रैल 1980 को भारतीय जनता पार्टी के नाम से नई पार्टी का गठन हुआ, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी पार्टी के पहले अध्यक्ष बने ।

 

बीजेपी की बढ़ती ताकत


    1984 चुनाव - 2 सीटें
    1989 चुनाव - 85 सीटें
    1991 चुनाव - 120 सीटें
    1996 चुनाव - 161 सीटें
    1998 चुनाव - 182 सीटें
    1999 चुनाव - 182 सीटें
    2004 चुनाव - 138 सीटें
    2009 चुनाव - 116 सीटें
    2014 चुनाव - 282 सीटें

 

पूर्ण बहुमत से बीजेपी सरकार

 

1. अरुणाचल प्रदेश
2. असम
3. छत्तीसगढ़
4. गोवा
5. गुजरात
6. हरियाणा
7. झारखंड
8. मध्य प्रदेश
9. महाराष्ट्र
10. मणिपुर
11. राजस्थान
12. उत्तर प्रदेश
13. उत्तराखंड
14. हिमाचल प्रदेश
15. त्रिपुरा

 

सहयोगी दलों के साथ BJP की सरकार 

1. जम्मू-कश्मीर
2. नागालैंड
3. आंध्र प्रदेश
4. सिक्किम
5. बिहार
6. मेघालय

6 अप्रैल 1980 के दिन देश की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी भारतीय जनता पार्टी का गठन हुआ था ।  अटल बिहारी वाजपेयी इसके पहले अध्यक्ष थे, 1984 के अपने पहले आम चुनाव में लोकसभा की केवल 2 सीटें जीतने वाली बीजेपी 2014 में दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी बन गई।

                                                                            नई दिल्ली से सरिता गुप्ता


पर हमसे जुड़े

मुख्य ख़बरे