Live Tv

Sunday ,16 Dec 2018

हरीतिमा अभियान का सीएम योगी ने किया शुभारंभ

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Apr 07-2018 02:34:50pm

इलाहाबाद : संगम नगरी इलाहाबाद में मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने स्वास्थ्य दिवस के मौके गंगा हरीतिमा अभियान का शुभांरभ किया। सीएम ने कहा कि नदियों की स्थिति को देखकर लोगों को दुख होता है, पीएम मोदी ने गंगा को अविरल और निर्मल बनाने का संकल्प लिया, नदियों को बचाने के लिए पेड़-पौधे लगाने का काम शुरु हुआ। पहले वन विभाग वनों के कटान के लिए बदनाम हुआ करता था, आज वन विभाग पेड़ पौधे लगाने और पर्यटन बढ़ाने के लेकर चर्चा में है।

 

गंगा हरीतिमा अभियान गंगा को अविरल और निर्मल बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है,। एक व्यक्ति एक वृक्ष से अभियान के बल मिलेगा। लोगों को नदी के तटों पर पंचवटी लगाने के लिए आगे आना होगा, नदियों के किनारे पेड़ पौधे लगाये जाने से सूखे और बाढ़ की समस्या नहीं होगी, पांच राज्यों में बहने वाली गंगा नदी अकेले यूपी में 1140 किमी बहती है, कुम्भ के आयोजन के साथ गंगा हरीतिमा अभियान को जोड़कर शुरु किया गया है, वन है तो जल है, जल है तो जीवन है, इसे आगे बढ़ाना है।

 

ये पढ़े : उत्तर प्रदेश क्राइम - 7 अप्रैल 2018

 

स्वच्छ भारत अभियान स्वस्थ भारत अभियान के हिस्सा है, आने वाले समय में गंगा किनारे बसे सभी नगरों, कस्बों को स्वच्छ और सुन्दर बनना है। कुम्भ दुनिया का सबसे बड़ा सामाजिक और सांस्कृतिक आयोजन है। कुम्भ को लेकर 684 करोड़ रूपए की 151 योजनाएं शुरु हुई हैं। 2019 में प्रयागराज कुम्भ को दुनिया का विशिष्ट आयोजन बनाने के लिए केंद्र सरकार और राज्य सरकार काम कर रही है। कुम्भ में आने वाले करोड़ों श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए योजनाओं को मूर्त रुप दिया जा रहा है।

 

 यूपी में उत्कृष्ट मानक की सड़कों का निर्माण हो रहा है, नगर विकास विभाग जनता की सुविधाओं के लिए कार्य कर रहा है। 99 स्मार्ट शहरों में यूपी के दस शहर शामिल किये गए हैं, इलाहाबाद भी स्मार्ट शहरों में शामिल किया गया है। माघ मेले में स्वच्छता को लेकर उत्कृष्ट कार्य किया गया। प्रदेश के कई शहरों को वायु सेवा से जोड़ा जा रहा है। कुम्भ से पहले जलमार्ग से प्रयाग को जोड़ने पर आगे बढ़े हैं।

 

कुम्भ मेले में आने के लिए जल,थल और वायु मार्ग होगा। अखाड़ों और साधु संतो से सीएम ने अपील कि की वे अपने यहां भी देश व दुनिया से आने वाले श्रद्धालुओं के रुकने की व्यवस्था करें। इसके अलावा सभी कार्यक्रमों को समय सीमा में पूरा करने का लक्ष्य, श्रृंगवेरपुर को विकसित करने की सरकार ने मंजूरी दी है। इस वर्ष वन महोत्सव के कार्यक्रम में लोगों को वन विभाग को भी जोड़गा। सीएम ने प्रयागराज कुम्भ मेले के सभी कार्यों को समय पर पूरा करने की बात भी कही।