Live Tv

Sunday ,16 Dec 2018

उत्तराखंड क्राइम - 12 अप्रैल 2018

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Apr 12-2018 02:11:04pm

लालकुआं : लालकुआं कोतवाली क्षेत्र के हल्दूचौड़  के अंतर्गत एकअधजली अज्ञात शव मिलने से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया मौके पर पहुंची। लालकुआं और हल्द्वानी पुलिस ने शव की शिनाख्त करने की कोशिश की लेकिन शव की शिनाख्त नहीं हो पाई। शव लालकुआं से हल्द्वानी रामपुर बाइपास को जाने वाले  सड़क के किनारे मिला है।

 

ये पढ़े : प्रशासन और नगर पालिका ने अवैध अतिक्रमण हटाया

 

अधजली लाश युवक की है जिसकी उम्र लगभग 30 साल के आसपास बताई जा रही है। वहीं मौके पर पहुंची पुलिस और फॉरेंसिक सपोर्ट की टीम के साथ-साथ डॉग स्क्वायड की टीम ने भी शव की जांच की लेकिन कोई भी सुराग हाथ नहीं लगा पाया। शव की शिनाख्त करने की कोशिश की लेकिन शव की शिनाख्त नहीं हो पाई है। शव  के आसपास खून के काफी मात्रा में खून के निशान पड़े हुए हैं जिससे प्रतीत हो रहा है कि युवक की वहीं पर हत्या कर शव हो जलाया गया है।  वही मौके पर पहुंचेasp सहित आला अधिकारी शव की शिनाख्त करने में जुटे हुए है। 

 

श्रीनगर : श्रीनगर मे 29 जनवरी  को हुए अनीष हत्याकाण्ड के  तीसरे  आरोपी को पुलिस ने पूछताछ के लिए रिमांड पर लिया है। 29 जनवरी को हरिद्वार के मंगलोर  निवासी अनीष की लाश श्रीनगर में बोरे मे मिली थी। अनीष को घटना के दिन साजिष के तहत श्रीनगर बुलाया गया था और यहां तीन लोगों ने उसकी हत्या की थी।  जिसके बाद पुलिस ने घटना के एक सप्ताह मे दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया था।

 

ये पढ़े : जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा कई स्कूलों का औचक निरक्षण

 

लेकिन तीसरा आरोपी सरफराज घटना के बाद से फरार चल रहा था। सातिर अपराधी सरफराज ने हत्या के जुर्म से बचने के लिए पहले से चल एक अपराध मे खुद की गिरफ्तारी मुजफ्फर नगर में दे दी। जिसके बाद पुलिस ने उसे मुजफ्फर नगर जेल मे बन्द कर दिया। जबकि जिस अपराध मे वह जेल गया उसमे उसकी जमानत हो चुकी थी।

 

लेकिन उसने हत्या के अपराध से बचने के लिए जमानत तुड़वाकर अपनी गिरफ्तारी दी। जब अनीष हत्याकाण्ड की तफतीष कर रही उतराखंड की श्रीनगर पुलिस को हत्याकाण्ड के मुख्य अरोपी सरफराज के जेल मे होने की खबर मिली तो पुलिस ने यूपी पुलिस से सरफराज को 24 घन्टे की रिमांड पर मांगा और पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। श्रीनगर  कोतवाल  ने बताया की सरफराज एक शातिर अपराधी है इस पर मुजफ्फर नगर में बहुत से केस दर्ज है।