×
Knews App Now Available for Mobile

FREE for Android and iOS.

  LIVE TV

Wednesday, 15 August 2018

कठुआ रेप केस : संजी राम की बेटी का बड़ा खुलासा, कहा मर्डर का षड्यंत्रकारी हुसैन

Reported by KNEWS | Updated: Apr 16-2018 01:54:50pm


नई दिल्ली : कठुआ गैंगरेप हत्या मामले में आरोपियों के खिलाफ कठुआ के CJM कोर्ट में सुनवाई हुई। कोर्ट में अब इस मामले पर अगली सुनवाई 28 अप्रैल को होगी। कोर्ट में सुनवाई के दौरान सभी आठ आरोपियों को पेश किया गया। जिला कोर्ट ने नार्को टेस्ट कराने को भी कहा है। सभी आरोपियों ने खुद को निर्दोष बताया है। वही रेप का मुख्य आरोपी सांजी राम खुद को रेप केस में फंसाने की बात कर रहा है उसका कहना है कि उसे इस केस में फंसाया जा रहा है।

 

इसके अलावा सुनावई खत्म होने के बाद सांजी राम की बेटी कोर्ट के बाहर चिल्ला चिल्ला कर बोल रही थी कि उसके पिता दोषी नहीं है उन्हे फंसाया जा रहा है। संजी राम की बेटी किसी हुसैन का नाम ले रही थी। वो कह रही थी कि इसके षड्यंत्र के पीछे हुसैन का हाथ है। लड़की ने कहा कि बच्ची का रेप नहीं हत्या हुई है। सीबीआई इस केस की अच्छे से पड़ताल करें।

 

उसने कहा कि इससे सही बातें निकलकर सामने आ जाएंगी। वहीं पीड़िता के वकील दीपिका राजावत ने अपनी जान को खतरा बताया है। उन्होने कहा है कि ये केस कहीं और ट्रांसफर कर दिया जाएगा। केस में दूसरी याचिका दिल्ली की वकील अनुजा कपूर की तरफ से दायर की गई है उन्होंने इस सनसनीखेज गैंगरेप और हत्या मामले की सुनवाई कठुआ से दिल्ली स्थानांतरित करवाने की मांग की है। कपूर ने मामले की जांच सीबीआई को देने की भी मांग अपनी याचिका में की है। 

 

ये पढ़े : हैदराबाद मस्जिद ब्लास्ट के आरोपियों को कैसी मिली जमानत

 

इसके अलावा याचिका में मामले की पीड़ित के परिजनों के लिये मुआवजे की भी मांग की गई है।  लेकिन यहां रहा तो जरूर उनकी हत्या कर दी जाएगी या उनका रेप हो जाएगा। याद हो कुछ 13 अप्रैल को कठुआ स्थित मंदिर के गर्भगृह में बच्ची के साथ एक नहीं बल्कि आठ लोगो ने चार दिनों तक उसे नशीली दवा पिलाकर बेहोशी की हालत में उससे अपनी हवस का शिकार बनाते रहे। जिसके बाद लड़की का मुंह पत्थर से कुचलकर उसके शव को जंगल में फेंक दिया गया। जिसके बाद पूरे देश में बवाल मचा हुआ।

 

बताया जा रहा है कि बकरवाल समुदाय को वहां से हटाने के लिए इस बच्ची का किडनैप कर बच्ची के साथ ये घृणित अपराध किया गया। वहीं पीड़ित बच्ची के परिवार वालों ने डर के कारण गांव छोड़ दिया है। इस मामले में जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि दोषियों के खिलाफ कड़ा कदम उठाया जाएगा। इसके साथ ये भी कहा कि बच्ची को इंसाफ दिलाने में कोई भी दिक्कत नहीं आएगी और उसे पूरा  न्याय मिलेगा।

 

केस में आठ आरोपी


 
मंदिर का रखरखाव करने वाले संजी राम को इस रेप मामले का मास्टरमाइंड बताया गया है। सांजी राम पर विशेष पुलिस अधिकारी दीपक खजूरिया और सुरेंद्र वर्मा के साथ मिलकर इस घटना को अंजाम देने का आरोप लगाया गया है। आरोपियों में एक नाबालिग भी शामिल है जिसके खिलाफ एक अलग चार्जशीट दाखिल की गई है।

 

आरोपियों में एक नाबालिग भी शामिल है जिसके खिलाफ एक अलग चार्जशीट दाखिल की गई है। अधिकारियों ने बताया है कि कठुआ के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट एक चार्जशीट सुनवाई के लिए सत्र अदालत भेजेंगे, जिसमें सात आरोपी नामजद हैं। जबकि नाबालिग आरोपी के खिलाफ मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट सुनवाई करेंगे।जम्मू कश्मीर सरकार ने इस संवेदनशील मामले में सुनवाई के लिए दो विशेष वकीलों की नियुक्ति की है।

 


पर हमसे जुड़े