×
Knews App Now Available for Mobile

FREE for Android and iOS.

  LIVE TV

Friday, 22 June 2018

दिल्ली से बॉलीवुड 12 घंटे में

Reported by KNEWS | Updated: Apr 17-2018 06:37:51pm


नई दिल्ली : अब 1 लाख करोड़ रुपए एक्सप्रेसवे पर खर्च किए जाएंगे। नितिन गडकरी ने कहा की दिल्ली NCR में भीड़भाड़ कम करने और जाम घटाने के लिए 356 अरब रुपए की कुल 10 परियोजनाओं पर काम चल रहा है। दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे राष्ट्रीय राजमार्ग 8 के 1450 किलोमीटर का फ़ासला घटाकर 1250 किलोमीटर तक ले आएगा और साथ ही इस दूरी को पूरा करने में 20-24 घंटे के बजाय 12 घंटे लगा करेंगे।

 

ये एक्सप्रेसवे फ़ासले को पूरा करने में लगने वाला समय क़रीब 4 घंटे कम कर देगा।  दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे कम विकसित इलाकों से गुज़रेगा क्योंकि इन इलाकों में आबादी कम बसती है, ऐसे एक्सप्रेसवे में  ट्रैफ़िक कम होगा और हादसों की आशंका भी कम होगी। ज़ाहिर है, भीड़ कम होने की वजह से गाड़ी चलाने वाले स्पीड कर पाएंगे। क्सप्रेसवे प्रोजेक्ट हरियाणा के मेवात और गुजरात के दाहोद जैसे दो सबसे पिछड़े ज़िलों से गुज़रेगा।

 

ये पढ़े : मक्का मस्जिद निर्णय हिन्दू-द्रोहियों के मुंह पर करारा तमाचा : आलोक कुमार

 

 

इसका पूरा रूट दिल्ली-गुड़गांव-मेवात-कोटा-रतलाम-गोधरा-वडोदरा-सूरत-दहिसर-मुंबई है। हमने जब goggle map की सहायता से इस दूरी को तय करने की कोशिश की तो  29 घंटे लग गए। तो ये एक्सप्रेसवे कैसे इस दूरी को बस12 घंटे में तय कर लेगा ये बड़ा सवाल है।

 

राजधानी दिल्ली और मुंबई के बीच दौड़ने वाली रेलगाड़ी आम तौर पर 1500 किलोमीटर से ज़्यादा फ़ासला तय करने में 16 घंटे लगती है। जो की ये एक्सप्रेसवे क़रीब 4 घंटे कम कर देगा। लेकिन सवाल है की क्या ये एक्सप्रेसवे कामयाब रहेगा? क्या केंद्र सरकार वाक़ई इसे साल 2020-21 तक पूरा कर सकेगी? सवाल कई हैं और जवाब वक़्त देगा।

 

 

                                                                         नई दिल्ली से प्राक्षी मिश्रा


पर हमसे जुड़े