Live Tv

Thursday ,13 Dec 2018

दिल्ली क्राइम - 20 अप्रैल 2018

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Apr 20-2018 03:50:37pm

नई दिल्ली : राजधानी दिल्ली एकबार फिर हुई शर्मशार हुई है। सरिता विहार इलाके के अली विहार में दरिन्दगी की एक और इन्तहा सामने आई है। जहां पर एक 35 साल के वयक्ति ने 3 साल की मासूम बच्ची को अपनी दरिंदगी का शिकार बनाने की कोशिश की। दरअसल, 3 साल की मासूम अपने घर के नीचे खेल रही रही थी।

 

ये पढ़े : वार्षिक दीक्षांत समारोह में पंहुचे केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन

 

लेकिन उसी दौरान एक शैतान की निगाहें उस पर गढ़ी हुई थी और वो बच्ची को बहला फुसला कर छत के ऊपर एकांत कमरे में ले गया। लेकिन बच्ची को ले जाते हुए सामने एक दुकानदार ने देख लिया। जिसके बाद उसने बच्ची की बुआ को बताया तो बच्ची की बुआ फौरन छत पर गई और जब कमरा खुलवाकर देखा तो वो सन्न रह गई। आरोपी मासूम के साथ गलत हरक्कत करने वाला था। 

 

नई दिल्ली : गोविन्दपुरी इलाके में 55 साल की महिला पर एक शख्स ने उन्ही के घर में चाकू से जानलेवा हमला बोल दिया। घटना के बाद आरोपी को ढूंढते -ढूंढते जब पुलिस उसके घर पहुंची तो वहां का मंजर ही कुछ और ही था। आरोपी ने पंखे से लटककर जान दे दी। अब फिलहाल पुलिस सुसाइड के पीछे की वजह का पता लगाने की कोशिश कर रही है कि आख़िर आरोपी ने मामला दर्ज होने के डर के चलते सुसाइड किया या आत्महत्या के पीछे वजह कुछ और ही है। 

 

नई दिल्ली : मध्य जिला दिल्ली पुलिस के थाने दरियागंज में तीन शातिर बदमाशों को गिरफ्तार किया है। ये तीनो शातिर बदमाश अन्य राज्यों से आने वाले यात्रियों को अपना निशाना बना कर उनसे लूट पाट करते थे। मोहम्मद फुरखन ,नसीम और नीरज तीनो बदमाश एक साथ रहकर यात्रियों को अपना निशाना बनाते थे। ये शातिर बदमाश पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन, नई दिल्ली रेलवे स्टेशन और बस अड्डों पर अन्य राज्यों से आने वाले यात्रियों को ही टारगेट पर रखते थे ताकि वो पुलिस में अपनी शिकायत दर्ज ना करा सके।

 

ये तीनो बदमाश वारदात करने से पहले नशा करते और फिर यात्रियों के साथ लूट पाट करते। जब दरियागंज नेताजी सुभाष मार्ग पर ये बदमाश बस में वारदात को अंजाम दे रहे थे तभी लोगो ने शोर मचाया तो वहा खड़ी पुलिस ने इन तीनो बदमाशों को धर दबोचा और इनके पास से लूट का मोबाईल फोन भी बरामद कर लिया। मोहम्मद फुरखान पर पहले भी कई मामले दर्ज है। पुलिस ने इन तीनो बदमाशों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।