Live Tv

Tuesday ,19 Feb 2019

पुलिस के हवाले ईमानदार चौकीदार

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Apr 24-2018 11:40:58am

कासगंज : नगर पालिका कासगंज में एक मामला सामने आया है .जहां नगर पालिका कासगंज की चौकीदारी कर रहे एक चौकीदार ने रिटायर्ड अकाउंटेंट को रात में ऑफिस खोल कर जरूरी दस्तावेज गायब करने से रोका। जिसको लेकर चौकीदार और रिटायर्ड अकाउंटेंट के बीच हाथापाई हो गई।

 

इसकी सूचना नगर पालिका के आला अधिकारियों को हुई मौके पर पहुंचकर नगर पालिका अधिशासी अधिकारी और चेयरमैन प्रतिनिधि ने ईमानदार चौकीदार को ही पुलिस के हवाले कर दिया।

 

ये पढ़े : ऑक्सीजन न मिलने से वृद्ध महिला की मौत

 

पुलिस ने मेडिकल चेकअप के लिए चौकीदार को भेज दिया। अधिशासी अधिकारी से कैमरे के सामने पूंछा गया तो अधिशासी अधिकारी नगर पालिका कासगंज ने बताया कि महेश वर्मा 3 माह पूर्व रिटायर्ड हो चुके हैं।

 

उन्होंने कहा कि शायद उनको ठेके पर रखा गया है, इसकी जांच कराई जा रही है। यहां सवाल यह उठता है कि आखिर 3 माह बीत जाने के बावजूद भी नगर पालिका के अकाउंटेंट के पद पर जो की बहुत महत्वपूर्ण होता है उस पर रिटायर्ड अकाउंटेंट महेश वर्मा आखिर उद्देश्य अभी तक जमे हुए हैं।

 

 चौकीदार की जिम्मेदारी रात में ऑफिस के रखरखाव के लिए सुनिश्चित की गई थी। जब चौकीदार ने रिटायर कर्मचारी महेश वर्मा को जरूरी दस्तावेज निकालने से रोका तो उस को ही पुलिस के हवाले क्यों किया गया।

 

क्या रिटायर्ड अकाउंटेंट फर्जी रूप से तैयार की हुई पत्रावलियों को गायब करने के उद्देश्य से नगर पालिका कार्यालय  तो नहीं आया था। नगर के अधिकारी इस मामले से पूरी तरह से बचते नजर आ रहे हैं। 
     
                                               

                                                              कासगंज से शिव प्रताप सिंह सोलंकी