×
Knews App Now Available for Mobile

FREE for Android and iOS.

  LIVE TV

Friday, 22 June 2018

योगी : विकसित उत्तर प्रदेश

Reported by KNEWS | Updated: Apr 26-2018 02:40:39pm


लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद सुलतानपुर भ्रमण के दौरान कलेक्ट्रेट में कानून-व्यवस्था एवं विकास योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की। बैठक में जनप्रतिनिधिगण एवं शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

 

बैठक में जिलाधिकारी ने मुख्यमंत्री योगी को ग्राम्य विकास, पंचायती राज, बेसिक शिक्षा, चिकित्सा व स्वास्थ्य, लोक निर्माण विभाग, ऊर्जा, सिचाई, पशुधन, लघु सिचाई, भूतत्व एवं खनिकर्म, माध्यमिक शिक्षा, वन एवं पर्यावरण, कृषि, लोक शिकायत, समाज कल्याण, खाद्य एवं रसद, नगर विकास आदि विभागों की प्रगति के बारे में जानकारी दी। बैठक में पुलिस अधीक्षक ने कानून व्यवस्था की जानकारी देते हुए बताया कि जिले की कानून व्यवस्था की स्थिति में सुधार हुआ है।

 

समीक्षा के दौरान उन्होंने कानून-व्यवस्था को और प्रभावी बनाकर जनता में पुलिस का विश्वास कायम किया जाने की, एण्टी रोमियो स्क्वाॅयड को और सक्रिय बनाने की, प्रतिदिन स्कूलों के खुलने व बन्द होने के समय पैनी निगाह रखे जाने की, रात्रिकालीन गश्त को और बढ़ाया जाने की, पेयजल योजनाओं तथा हैण्डपम्पों के री-बोर की निर्देश दिए है।

 

ये पढ़े : ग्रामीणों ने पकड़ा तेंदुआ

 

 

योगी ने स्वच्छ भारत मिशन की समीक्षा के दौरान जिले की खराब प्रगति को सुधारने के भी निर्देश दिए तथा कहा कि युद्धस्तर पर अभियान चलाकर जिले को ओ.डी.एफ. घोषित किया जाएंगे ,साथ ही सभी छात्र/छात्राओं को पाठ्य-पुस्तक का वितरण कराने के, क्षेत्र भ्रमण कर चिकित्सकों की उपस्थिति व दवा की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए है।

 

 

उन्होंने खराब सड़कों के गड्ढामुक्त की समीक्षा में पाया कि लोक निर्माण विभाग की सड़कें गड्ढामुक्त हो चुकी हैं। उन्होंने बताया कि मण्डी समिति तथा जिला पंचायत को धनराशि उपलब्ध करा दी गयी है। इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में गठित समिति की बैठक में प्रस्तावित सड़कों को गड्ढामुक्त कराने के निर्देश दिए। योगी ने कही की प्रतापगढ़ से इलाहाबाद तक सड़क चैड़ीकरण का कार्य हो रहा है।

 

फैजाबाद से सुलतानपुर की सड़क ठीक हो गयी है। योगी जी ने सम्पूर्ण समाधान दिवस की समीक्षा करते हुए प्राप्त होने वाली शिकायतों के गुणवत्तापूर्ण निस्तारण के निर्देश दिए। उन्होंने विशेष अभियान चलाकर सभी पात्रों को पात्र गृहस्थी का राशन कार्ड जारी करने के निर्देश दिए।

 

 

उन्होंने कहा कि खाद्यान्न चोरी का प्रकरण प्रकाश में आने पर चोरी करने वाले व्यक्ति के साथ जिलापूर्ति अधिकारी की भी जबाबदेही होगी। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना के सभी लाभार्थियों के घरों में शत-प्रतिशत शौचालय बनाने के निर्देश दिए।

 

                                                                        नई दिल्ली से प्राक्षी मिश्रा


पर हमसे जुड़े