Live Tv

Sunday ,20 Jan 2019

सौतेली मां ने 9 साल की मासूम का कराया गैंगरेप, आंख फोड़ी और प्राइवेट पार्ट पर एसिड डालकर की हत्या

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Sep 05-2018 03:20:18pm

दिल्ली: जम्मू-कश्मीर में एक बार फिर से दिल दहला देने वाली घटना घटित हुई है। जम्मू कश्मीर के बारामूला कठुआ जैसा मामला फिर सामने आया है। बारामुला में 9 साल की बच्ची से गैंगरेप के बाद उसकी हत्या कर दी गई है। पुलिस ने मामले में बच्ची की सौतेली मां और सौतेले भाई समेत 5 लोगों को गिरफ्तार किया है। नाबालिग की हत्या और गैंगरेप के आरोप में गिरफ्तार में दो नाबालिग भी शामिल हैं। बारामूला के एसपी इम्तियाज हुसैन मीर ने बताया कि बच्ची 23 अगस्त से लापता थी, जिसके बाद उसके पिता ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। उन्होंने बताया कि जांच में बच्ची का शव पास के ही जंगली इलाके में मिला। बच्ची का शव सड़ी गली हालत में मिला था। शुरुआती जांच में पुलिस को ये मामला हत्या का लगा। उन्होंने बताया कि हत्या की जांच के लिए एसडीपीओ उरी के नेतृत्व में एक विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया गया।

उन्होंने बताया कि शुरुआत जांच में पुलिस समझ गई कि इस घटना में किसी घरवाले का हाथ है। एसपी मीर ने बताया, "एसआईटी ने संदिग्धों से पूछताछ की और मृतक की सौतेली मां से सख्ती से पूछताछ करने पर 9 वर्षीय बच्ची की दर्दनाक हत्या एवं बलात्कार का खुलासा हुआ।"
एसपी बारामुला ने बताया कि बच्ची के साथ गैंगरेप करने के बाद उसकी बेरहमी से हत्या की गई थी। आरोपियों ने बच्ची की आंख फोड़ दी और उसके प्राइवेट पार्ट और सीने पर एसिड डाल दिया था।
पुलिस ने एसिड लाने में इस्तेमाल हुए प्लास्टिक कैन और हत्या में शामिल हथियार को जब्त कर लिया है। सभी 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस की पूछताछ में आरोपी मां ने बताया कि उसका पति अपनी दूसरी पत्नी के साथ ज्यादा समय बिताता था और ये बच्ची उसे बेहद प्यारी थी। 

क्या हुआ था कठुआ में: 

कठुआ में आठ साल की बच्ची से हुई थी हैवानियत। जम्मू के कठुआ जिले में 10 जनवरी को आठ साल की बच्ची को अगवा किया गया था। कथिततौर पर उसे रासना गांव के एक मंदिर में बंधक बनाकर गैंगरेप किया गया। बाद में गला घोंटकर हत्या कर दी गई। फिर पत्थर से सिर कुचल दिया गया। 17 जनवरी को उसका शव मिला। इस मामले में आठों आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं।