×
Knews App Now Available for Mobile

FREE for Android and iOS.

  LIVE TV

Sunday, 18 November 2018

वीएचपी का बड़ा एलान,राम मंदिर के लिए संतों की बैठक बुलाई

Reported by KNEWS | Updated: Sep 22-2018 01:49:14pm


2019 लोकसभा चुनाव को लेकर सभी पार्टियों  ने अपनी तैयारी शुरु कर दी है.इस बार का लोकसभा चुनाव को नया तूल दिया जा है। कहा जा रहा है की यह चुनाव सिर्फ मोदी वर्सेज अन्य का है। वही दूसरी रह जैसे-जैसे लोकसभा चुनाव नजदीक आ रहा है। वैसे-वैसे हिन्दू और सभी पार्टिया भगवान राम को भी याद कर रही है. राम मंदिर का मुद्दा अब  केंद्र  में आ गया है.राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सर संघचालक मोहन भगवत ने राम मंदिर बनवाने की इच्छा प्रकट की है.सूत्रों से पता चल रहा है की बीएचपी ने राम मंदिर बनवाने के लिए 5 अक्टूबर को दिल्ली में  एक संतों  की मीटिंग बुलाई है.जिसमे 30 से 35 बड़े संतो की उपस्थिति की आशंका मानी जा रही है.संतों की बैठक में राम मंदिर आंदोलन को आगे कैसे बढ़ाया जाए इस पर मंथन किया जाएगा.

संतों के इस मंथन में  राम मंदिर निर्माण को लेकर भविष्य की रणनीति पर चर्चा होगी, जिसमें संत राम मंदिर निर्माण के लिए कर सेवा का ऐलान कर सकते हैं. बैठक में शामिल होने के लिए महंत नृत्यगोपाल दास, साध्वी ऋतम्भरा समेत 36 प्रमुख संतो को न्योता दिया गया है. ये बैठक दिल्ली में विश्व हिंदू परिषद कार्यालय में होगी.बता दें कि हाल ही में संघ के कार्यक्रम 'भविष्य का भारत: संघ का दृष्टिकोण' में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने कहा था कि राम मंदिर निर्माण पर अगर कानून लाने का हक सरकार के हाथ में है और आंदोलन करने का अधिकार राम जन्मभूमि ट्रस्ट उच्चाधिकार समिति के पास है, ऐसे में सरकार और ट्रस्ट को तय करना है कि कि तरीके से मंदिर निर्माण होना है.मोहन भागवत ने ये भी कहा था कि वो न सरकार में हैं और न ही ट्रस्ट का हिस्सा हैं, लेकिन अगर उनसे इस मसले पर सुझाव लिए जाएंगे तो वे जरूर देंगे. इसके बाद भागवत ने इच्छी जताई थी कि अयोध्या में राम जन्मभूमि पर जल्द से जल्द भव्य राम मंदिर का निर्माण होना चाहिए. ऐसा होने से हिंदू-मुसलमानों के बीच विवाद का एक बड़ा कारण भी खत्म हो जाएगा.


पर हमसे जुड़े

मुख्य ख़बरे