×
Knews App Now Available for Mobile

FREE for Android and iOS.

  LIVE TV

Monday, 19 November 2018

डीआरएस फिर साबित हुआ ''धोनी रिव्यू सिस्टम''

Reported by KNEWS | Updated: Sep 24-2018 10:59:01am


रविवार को खेले गए भारत पाकिस्तान मैच में भारतीय पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने एक बार फिर साबित किया की डीआरएस को धोनी रिव्यू सिस्टम क्यों कहा जाता है.शायद ही कोई मौका आया हो जब रिव्यू के मामले में धोनी से गलती हुई हो. आमतौर पर जब भी धोनी रिव्यू लेते हैं तो अंपायर को अपना फैसला बदलना ही पड़ता है। पाकिस्तान की पारी के दौरान युजवेंद्र चहल 8वां ओवर करने आए. चहल के ओवर की छठी गेंद पाकिस्तान के ओपनर इमाम उल हक के पैड पर जाकर लगी. भारतीय खिलाड़ियों ने काफी तेज अपील की, लेकिन अंपायर ने आउट नहीं दिया.इसके बाद एमएस धोनी ने अपनी डीआरएस की समझ दिखाते हुए कप्तान रोहित शर्मा से डीआरएस लेने के लिए कहा. जब भारतीय टीम ने डीआरएस लिया तो इमाम उल हक विकेट के सामने पकडे़ गए और साफ एलबीडब्ल्यू आउट थे जिसके बाद अंपायर को अपना फैसला बदलना ही पड़ा.

धोनी ने एक बार फिर साबित कर दिया कि डीआरएस लेने में उनका कोई तोड़ नहीं है. डीआरएस का नाम धोनी रिव्यू सिस्टम इसलिए पड़ा, क्योंकि डीआरएस लेने के मामले में धोनी के आस-पास कोई भी नहीं है. जब भी धोनी डीआरएस लेते हैं, तो वह 99% सही रहते हैं. इसके बाद एक बार फिर धोनी डीआरएस को लेकर ट्विटर पर छा गए. धोनी रिव्यू सिस्टम के हैशटैग में लोगों ने ट्वीट करना शुरू किया और यह ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा.

बता दें कि टीम इंडिया ने पाकिस्तान को एशिया कप के सुपर-4 मुकाबले में 9 विकेट से मात दे दी है. इससे पहले भारत ने बांग्लादेश को हराया था. मौजूदा टूर्नामेंट में यह भारत की लगातार चौथी जीत है. इसी के साथ ही भारत ने एशिया कप 2018 टूर्नामेंट के फाइनल में अपनी जगह सुनिश्चित की. भारत ने 10वीं बार एशिया कप के फाइनल में जगह बनाई है.दुबई में खेले गए इस महामुकाबले में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान की टीम ने 50 ओवर में 7 विकेट पर 237 रन का स्कोर बनाया और भारत को जीत के लिए 238 रनों का लक्ष्य दिया. जवाब में टीम इंडिया ने इस आसान से लक्ष्य को 39.3 ओवर में ही हासिल करते हुए पाकिस्तान को धूल चटा दी.


पर हमसे जुड़े

मुख्य ख़बरे