Live Tv

Sunday ,20 Jan 2019

सुप्रीम कोर्ट दे सकता है राम मंदिर पर अहम् फैसला

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Sep 24-2018 03:46:10pm

राम मंदिर का फैसले को लेकर सिर्फ जनता ही नहीं बेसब्री से इंतज़ार कर रही बल्कि देश की सभी पार्टियों के नेता भी इस फैसले पर अपनी-अपनी आंखे जमाये  हुए है.राम मंदिर मुद्दा इस समय का राजनीती करने वाली पार्टियों के लिए एक अहम मुद्दा बन चूका है.सभी पार्टी इसको अपना वोट बैंक बनाने में लगी है.वही यह मुद्दा कोर्ट में जाने से इसपर राजनीति तो कम होने का नाम नहीं ले रहा बल्कि सत्ता में काबिज भाजपा सरकार इस पर नया अद्यादेश लाने की चेतावनी दे दी थी.वही दूसरी तरफ  इस अहम केस में सुप्रीम कोर्ट 28 सितंबर को अपना फैसला सुना सकता है. सुप्रीम कोर्ट इस बात पर फैसला देगा कि मस्ज़िद में नमाज़ पढ़ना इस्लाम का आतंरिक हिस्सा है या नहीं. इस बात पर फैसला सुनाने के बाद ही टाइटल सूट के मुद्दे पर फैसला आने की संभावना है.

बता दे कि ,1994 में सुप्रीम कोर्ट की पीठ ने फैसला दिया था कि मस्जिद में नमाज पढ़ना इस्लाम का इंट्रीगल पार्ट नहीं है.वहीं 2010 में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने फैसला देते हुए एक तिहाई हिंदू, एक तिहाई मुस्लिम और एक तिहाई रामलला को दिया था.इसके साथ ही राम जन्मभूमि में यथास्थिति बरकरार रखने का निर्देश दिया गया था, ताकि हिंदू धर्म के लोग वहां पूजा कर सकें.अब कोर्ट इस बात पर विचार करेगा कि क्या 1994 वाले फैसले की समीक्षा की ज़रूरत है या नहीं. कोर्ट ने 20 जुलाई को फैसला सुरक्षित रखा था. बता दें कि टाइटल सूट से पहले ये फैसला काफी बड़ा हो सकता है. सुप्रीम कोर्ट की एडवांस सूची के मुताबिक ये फैसला लिस्ट में शामिल है.