Live Tv

Sunday ,20 Jan 2019

पानी की परेशानी से जूझ रहे झाँसी के किसान

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Jan 12-2019 04:10:26pm

नहरों की सफाई न होने से पानी टेल तक नहीं पहुंच पा रहा है जिससे किसान बेहद परेशान हैं। सिंचाई के लिए कृषकों को निजी संसाधनों का इस्तेमाल करना पड़ रहा है। गरीब तबके के किसानों की स्थिति और भी ज्यादा बद्द्तर है। उन्हें अपनी फसल की पैदावार के लिए पानी खरीदना पड़ रहा है। 

गढ़मउ माइनर से कई गांवों के किसान जुडे़ हैं। जिसमें गोरामछिया, छपरा, दौन, दुनारा, भूपनगर आदि शामिल हैं। लेकिन अधिकांश जगह नहर के अन्दर झाड़ियां उग गई हैं। जिसकी सफाई न होने से पानी का आवागमन रूक गया है। गौरतलब है कि शासन की ओर से प्रत्येक वर्ष एक मोटी रकम किसानों के हित के लिए आती है। जिसमें सबसे ज्यादा खर्चा सिंचाई के लिए होता है। लेकिन प्रशासनिक अफसरों की लापरवाही का खामियाजा किसानों को भुगतना पड़ रहा है।

जीत के जश्न में मशरूफ विराट ने लगाया अनुष्का को गले... (आगे पढ़े)

जिलाधिकारी शिवसहाय अवस्थी ने अधिकारियों के साथ बैठक में निर्देश दिये थे कि नहरों की शीघ्र सफाई हो, पानी टेल तक पहुंचना चाहिए। किसानों की हर समस्या का समाधान तत्काल हो। इसके बावजूद सिंचाई विभाग की उदासीनता देखने को मिल रही है।

किसानों का कहना है कि करीब 3 से 4 साल हो गये हैं लेकिन नहरों की अब तक सफाई नहीं हुई है। उनकी सुध लेने कोई नहीं आता है। उनके लिए सरकारी योजनाए हवाहवाई हैं। नहरों में जगह-जगह झाड़ियों के उग जाने से पानी उन तक नहीं पहुंच पा रहा है। खेती करना महंगा होता जा रहा है।