Live Tv

Sunday ,17 Feb 2019

कश्मीर के शोपियां में एनकाउंटर, सेना के जवानों ने दो आतंकियों को मार गिराया

VIEW

Reported by KNEWS

Updated: Jan 22-2019 01:58:10pm

शोपियां एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में दो आतंकियों को ढेर कर दिया है. इससे पहले सोमवार को बडगाम में भी सेना ने बड़ा एक्शन लेते हुए तीन आतंकियों को मार गिराया था.

बडगाम के बाद मंगलवार को जम्मू कश्मीर के शोपियां में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच  में मुठभेड़ हुई, जिसमें अभी तक  2 आतंकियों के मारे जाने की खबर आई है।  हालांकि, अभी इनके शव बरामद नहीं किए गए हैं। जबकि इलाके में अभी भी हिज्बुल मुजाहिदीन के एक प्रमुख कमांडर की छुपे होने की खबर है। 24 घंटे के अंदर  सुरक्षाबालों  ने कश्मीर घाटी में पांच आतंकियों का सफाया कर दिया गया है। सुरक्षाबलों को शोपियां के सिरमाल गांव में आतंकियों के छुपे होने की खबर मिली थी। जिसके बाद उनके खिलाफ ऑपरेशन चलाया गया. सुरक्षाबलों ने जब आतंकियों को घेर लिया तो दोनों तरफ से फायरिंग होने लगी। बगीचे में छुपे आतंकियों को घेर लिया गया और सेना ने भी जवाबी कार्रवाई की इन आतंकियों में सज्जाद मागरे भी शामिल बताया जा रहा है।  सज्जाद रियाज नायकू का करीबी है। दरअसल, सुरक्षाबलों को शोपियां के सिरमाल गांव में आतंकियों के छुपे होने की खबर मिली थी। जिसके बाद केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (सीआरपीएफ), एसओजी (स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप) और 44 राष्ट्रीय रायफल्स के जवानों की टीम ने मौके पर पहुंचकर आतंकियों की घेराबंदी की। इसके बाद आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच सुबह सवेरे मुठभेड़ शुरू हो गई। पुलिस के मुताबिक, इस दौरान आतंकियों की तरफ से फायरिंग की गई। जिसके जवाब में जवानों ने भी गोलीबारी की। 

 

Double attack - भारी बारिश और बर्फ़बारी से 26 जनवरी तक ठिठुरने को हो जाइये तैयार .... (आगे पढ़े)

सोमवार को बडगाम में जवानों ने किया था  आतंकवादियों को ढेर

इससे पहले सोमवार को बडगाम में जवानों ने बर्फबारी के बीच तीन आतंकियों को मौत के घाट उतारा था. जबरदस्त ठंड के बीच जवानों ने करीब १२  घंटे तक आतंकियों से लोहा लिया था। ठंड और बर्फबारी को हराते हुए देश की रक्षा में लगे जवानों ने बडगाम जिले के चरार-ए-शरीफ में इस ऑपरेशन को अंजाम दिया था और सफलता भी हासिल की।  आतंकियों पर प्रहार करने वालों में जम्मू कश्मीर पुलिस और एसओजी के जवान शामिल थे। चरार-ए-शरीफ इलाके के हपतनार जंगलों में आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिली थी, जिसके बाद सुरक्षाबलों ने घेराव व तलाशी अभियान किया। जवानों की घेराबंदी से बौखलाए आतंकियों ने फायरिंग खोल दी, जिसका जवाब देते हुए जवानों ने आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया।ये तीनों आतंकी अल-बदर संगठन के थे, इनमें तनवीर नाम का आतंकी भी मारा गया था। जीनत-उल इस्लाम का खात्मा होने के बाद तनवीर ने अल-बदर की जिम्मेदारी संभाली थी। बडगाम के बाद आज जवानों ने शोपियां में दहशतगर्दों को टारगेट किया।  इन आतंकियों में सज्जाद मागरे भी शामिल है, जो हिज्बुल मुजाहिदीन का आतंकी है।  पुलिस के मुताबिक, फिलहाल फायरिंग रुक गई है और सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। हिज्बुल का प्रमुख कमांडर अभी भी छुपा हुआ है. जिसकी तलाश की जा रही है. हालांकि, एनकाउंटर के दौरान स्थानीय लोगों के विरोध का भी सुरक्षाबलों को सामना करना पड़ा है।  कश्मीर घाटी में सेना लगातार आतंकियों का खात्मा कर रही है।  इसके लिए बाकायदा ऑपरेशन ऑलआउट चलाया गया है।  जिसके तहत आतंकियों की लिस्ट बनाकर उन्हें टारगेट किया जा रहा है।  सेना की इस कार्रवाई से आतंकियों के हौसले पस्त हो गए हैं। 

                                                                                                                                                                                                                 तनूजा रावत